अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोसी को मुख्यधारा में लौटाने में जुटेगी वायुसेना

प्रलयंकारी कोसी नदी को उसकी मुख्यधारा में वापस ले जाने के कार्य में अब भारतीय वायुसेना भी जुटने जा रही है। इस विशेष कार्य के लिए रक्षा मंत्रालय के साथ-साथ नेपाल सरकार ने भी अपनी सहमति दे दी है। नदी का रुख मोड़ने का भारतीय वायुसेना का बिहार में यह पहला प्रयास होगा। जलसंसाधन विभाग के सचिव अजय नायक के मुताबिक नेपाल के कुशहा के समीप कटान स्थल पर बिहार सरकार के अभियंताआें के साथ- साथ हिन्दुस्तान स्टील वक्र्स कंस्ट्रक्शन लिमिटेड के अभियंता फिलहाल बांध के कटान भाग के दोनों छोर पर बांध के बचाव में युस्तर पर लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कियह कार्य तीन-चार दिनों में पूरा कर लिया जाएगा। नायक ने बताया कि इसके बाद पायलट चैनल पर ब्लास्टिंग का कार्य शुरू किया जाएगा। उन्होंने बताया कि ब्लास्टिंग से नदी की मुख्यधारा में गहरा गड्ढा बनाया जाता है, ताकि नदी अपनी धारा बदल दे। बाद में इसी गड्ढे में भारतीय वायुसेना पायलट गेविन (लोहे की तार में बंधे बोल्डर) को अपने विमान से सटीक उसी स्थान पर गिराएंगे, जिससे नदी की धारा को वर्तमान कटान स्थल की आेर बहने में अवरोध पैदा होगा। नायक ने बताया कि इससे पूर्व नदी की धारा में तीन चैनल बनाकर कोसी के साथ बहने वाले गाद को नदी की बायीं आेर जमा करने की कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि इसे अंजाम देने के लिए हिन्दुस्तान स्टील वक्र्स कंस्ट्रक्शन कंपनी तथा नेपाल की अमन कंस्ट्रक्शन कंपनी जुटी है। नायक ने बताया कि उक्त सभी कार्य बाढ़ विशेषज्ञ इंजीनियर निलेन्दु सान्याल की अध्यक्षता में बनी समिति द्वारा पेश कार्ययोजना के आधार पर किए जा रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कोसी को मुख्यधारा में लौटाएगी वायुसेना