अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हर साल एक लाख नए कनेक्शन

राजधानी के बाशिंदों को सिलेंडर की बुकिंग, लाइन, पूछताछ और मापतौल की हुज्जत से निजात मिलने वाली है। अगले साल से हर साल एक लाख घर सिलेंडर मुक्त होकर पाइप्ड नेचुरल गैस (पीएनजी) की बेखटक सेवा का आनंद ले सकेंगे। मौजूदा वर्ष में यह सुविधा 50 हाार लोगों को ही मिल पाएगी। यही नहीं वाहनों में सीएनजी भरवाने के लिए लगने वाली लंबी कतारों से भी कुछ राहत मिलने वाली है। इन्द्रप्रस्थ गैस लिमिटेड (आईजीएल) के प्रबंध निदेशक राजेश वेदव्यास ने बताया कि सीएनजी के चार नए स्टेशन निकट भविष्य में काम करना शुरू कर देंगे। राजेश ने कहा कि अब वे इस स्थिति में हैं कि हर साल पीएनजी के एक लाख नए कनेक्शन दे सकें। उन्होंने कहा, ‘अभी हम करीब 80 कालोनियों को गैस की सप्लाई कर रहे हैं। हमारा इरादा है कि अगले साल अशोक विहार, हरी नगर, चितरांन पार्क, सफदरांग डवलपमेंट एरिया, शालीमार बाग, डिफेंस कालोनी, अलकनंदा, कालकाजी में गैस पहुंचा दें।’ आईजीएल वर्तमान में लगभग 1.30 लाख घरों में पाइप के द्वारा रसोई गैस की सप्लाई कर रही है। राजधानी के साथ-साथ नोएडा और ग्रेटर नोएडा में सीएनजी गैस स्टेशनों की संख्या को भी बढ़ाया जा रहा है। आईजीएल की दिल्ली सरकार की तरफ से गैस स्टेशनों के लिए जमीन देने के मसले पर चल रही बातचीत के भी ठोस नतीजे निकले हैं। दिल्ली सरकार ने पीतमपुरा, मिन्टो रोड, सरोनी नगर तथा सीजीओ कॉम्पलेक्स में सीएनजी स्टेशनों के लिए जमीन आवंटित कर दी है। इनके अलावा कंझावला और बवाना में मेगा सीएनजी स्टेशनों की स्थापना के लिए भूमि जल्द ही मिल सकती है। ध्यान रहे कि आईजीएल कुल 50 नए स्टेशन शुरू करने के लिए भूमि की मांग कर रही है। इस साल के अंत तक दिल्ली सरकार सीएनजी स्टेशनों के लिए राजधानी के अन्य इलाकों में जमीन दे देगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हर साल एक लाख नए कनेक्शन