अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुपौल-अररिया में डायरिया से 32 मरे

बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में डायरिया व अन्य बीमारियों ने कहर बरपाना शुरू कर दिया है। सुपौल व अररिया जिले में डायरिया से अब तक 32 मौतें हो चुकी हैं। कोसी प्रमंडल में पानी के घटने-बढ़ने के साथ बाढ़ की स्थिति यथावत बनी है। सारण तटबंध के कटाव को रोकने का प्रयास युद्धस्तर पर शुरू कर दिया गया है। नवगछिया के श्रीपुर में कल्वर्ट के टूट जाने से नगर पंचायत के प्रोफेसर कालोनी, नोनियापट्टी में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। । इस बीच कृषि विभाग ने 32 प्रखंड कृषि पदाधिकारियों को कोसी व पूर्णिया प्रमंडल के बाढ़ग्रस्त प्रखंडों में तैनात किया है। सहरसा-महेशखूंट मार्ग (एनएच 107) पर पानी का बहाव जारी है।ड्ढr ड्ढr मधेपुरा के मुरलीगंज में आरईओ पुलिया टूटने से एक दर्जन गांवों में पानी फैल गया है। पूर्णिया में धमदाहा अनुमंडल के एक दर्जन गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया। कटिहार के पास बरंडी नदी के जलस्तर में लगातार हो रही वृद्धि से कई गांवों पर बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है। गुरुवार की रात तेज बारिश से बागमती के जलस्तर में डेढ़ फीट की वृद्धि हो गयी। इससे मुजफ्फरपुर के औराई व कटरा प्रखंड के पांच दर्जन गांव फिर जलमग्न हो गये हैं तथा औराई-बेनीबाद समेत अन्य सड़कों पर यातायात ठप हो गया है। सुपौल के छातापुर प्रखंड के रानीपट्टी नहर एवं तिलाठी माइनर पर शरण लिए हाारों बाढ़पीड़ितों में कई डायरिया से आक्रांत हैं। इनमें अब तक दस की मौत हो चुकी है जबकि सैकड़ों पीड़ित हैं। त्रिवेणीगंज प्रखंड के मानगंज स्थित मध्य विद्यालय की छत पर शरण लिए 17 बाढ़पीड़ितों की मौत डायरिया व पानी में गिरने से हो गयी है। इन लोगों तक कोई राहत नहीं पहुंच पायी है। लोग भूखे-प्यासे बिलबिला रहे हैं तो बीमारी से कराह रहे हैं। पंचायत के मुखिया ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि मृतकों की सूची लेने से भी प्रखंड कार्यालय ने इंकार कर दिया। लाशों को कफन भी नसीब नहीं हो पाया मृतकों को। हालांकि इन मौतों के संबंध में कोई भी अधिकारी कुछ भी बताने से इंकार कर रहे हैं। वहीं अररिया जिले में भी 5 लोगों को डायरिया से मरने की सूचना है। इस बीच सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार बाढ़ प्रभावितों की तादाद बढ॥कर 27.26 लाख तक पहुंच गयी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सुपौल-अररिया में डायरिया से 32 मरे