DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देश के इतिहास काकाला दिन:मायावती

भारत-अमेरिका परमाणु डील को हरी झंडी पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए बसपा अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती ने इसे देशवासियों के साथ विश्वासघात बताया। शनिवार को देर शामोारी बयान में उन्होंने छह सितंबर को देश के इतिहास में काला दिन बताया। उन्होंने कहा कि डील के समर्थक राानीतिक दलों को देश कीोनता लोकसभा चुनावों में कराराोवाब देगी। उधर भाापा, माकपा और भाकपा ने भी मनमोहन सरकार पर देश की सम्प्रभुता गिरवी रखने का आरोप लगाते हुए तत्काल संसद का सत्र बुलाने की माँग की है।ड्ढr इस बीच मायावती ने केंद्र सरकार की बर्खास्तगी के लिए राष्ट्रपति को पत्र लिखा है। पत्र में कहा है कि डील पर केंद्र को संसद का विशेष सत्र बुलाकर स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए और सभी शर्तेोनता के सामने उाागर करनी चाहिए। राष्ट्रपति केंद्र सरकार को सत्र बुलाने के लिए निर्देश दें और यदि केंद्र सरकार सत्र नहीं बुलाती है तो उसे बर्खास्त कियाोाए। मायावती ने आरोप लगाया कि डील के मामले में सभी राानीतिक दलों को भरोसे में लेने की कोशिश नहीं की गई। इतना ही नहीं कांग्रेस ने देश की स्वतंत्र परमाणु नीति को भी दरकिनार कर दिया और एसी शर्ते मान बैठी हैोिसका गंभीर खामिया देश को आने वाले समय में चुकाना होगा।ड्ढr ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: देश के इतिहास काकाला दिन:मायावती