DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

झारखंड राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ दो फाड़

अध्यक्ष मेल प्रकाश टोप्पो और महासचिव बृजबिहारी पांडेय का आपसी मनमुटाव सतह पर आ गया। इसका नतीजा हुआ झारखंड राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ का दो फाड़ होना। अध्यक्ष और महासचिव के नेतृत्व में सात सितंबर को अलग-अलग स्थान पर चुनाव होगा। हालांकि दोनों गुट अपने को संघ का वास्तविक रूप बता रहा है। टोप्पो के नेतृत्व वाले गुट का चुनाव संत मारग्रेट स्कूल, तो पांडेय गुट का चुनाव गौरीदत्त मंडेलिया हाइस्कूल में होगा।ड्ढr महासचिव बृजबिहारी पांडेय ने कहा है कि अध्यक्ष के साथ गये पदाधिकारियों की हार तय थी। पदमोह के कारण इन लोगों ने अलग गुट बना लिया। अगर हिम्मत थी, तो एक ही साथ चुनाव मैदान में उतरकर दिखाते। इस बार सबकी जमानत जब्त हो जाती। कहा-मुझे राज्य के सभी शिक्षकों का समर्थन प्राप्त है। 1जिलों के प्रतिनिधि मतदान के लिए गौरीदत्त मंडेलिया स्कूल में जुटेंगे। उनके साथ मात्र वैसे जिलों के प्रतिनिधि हैं, जिन्हें राष्ट्रीय संगठन ने मतदान से वंचित कर दिया है। उनके चुनाव के लिए केंद्रीय कमेटी ने पर्यवेक्षक भी भेजा है।ड्ढr इधर, अध्यक्ष गुट के रणविजय तिवारी ने कहा कि महासचिव को छोड़कर सभी पदाधिकारी उनके साथ हैं। पांडेय अपनी मनमानी पर अड़े हैं। संगठन को वह अपनी जागीर समझते हैं। इस कारण अलग होकर चुनाव की घोषणा करनी पड़ी। राज्य के सभी जिलों के प्रतिनिधि उनके साथ हैं। सभी जिलों के शिक्षकों ने उनके साथ होने की बात भी कही है। चुनाव के दिन पांडेय का औकात पता चल जायेगा। उनके द्वारा घोषित चुनाव राज्य का नहीं बल्कि पांडेय गुट का है। इस कारण वर्तमान में राज्य का एक भी पदाधिकारी उनके साथ नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: झारखंड राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ दो फाड़