अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आम आदमी की पहली कार होगी सौ साल की

अमेरिकन कार कंपनी फोर्ड इस वर्ष अपने टी-मॉडल की सौवीं वर्षगांठ मना रही है। आम आदमी के हाथ में सबसे पहले कार पहुंचाने का श्रेय फोर्ड को जाता है। देश-विदेश में मशहूर इस कार का लोकप्रिय मॉडल ‘टी’ अक्टूबर में अपने सौ साल पूरे कर रहा है।ड्ढr हेनरी फोर्ड म्यूजियम के मुताबिक पहला टी मॉडल 1 अक्टूबर, 108 में डेट्रॉइट में बनाया गया गया था। कम मूल्य वाली कारों की प्रबल इच्छा के साथ हेनरी फोर्ड ने फोर्ड मोटर्स को इस मुकाम तक पहुंचाया। उनके इस कार मॉडल ने मोटरिंग की परिभाषा को ही बदल कर रख दिया। टी मॉडल के नाम से विख्यात इस कार का पूरा नाम टिन लिजी है। इस कार म्यूजियम का नाम फोर्ड के जनक और कार इतिहास में क्रांतिकारी परिवर्तन लाने वाले सर हेनरी फोर्ड के नाम पर रखा गया। 1वर्ष की पूर्णावधि में फोर्ड ने मॉडल टी इंजन वाली 1.50 करोड़ कारों का निर्माण किया। डेटन विश्वविद्यालय में ऑटोमोबाइल इतिहास और अमेरिका पर उसका प्रभाव पढ़ाने वाले इतिहास के प्रोफेसर जॉन हीटमैन का कहना है कि निश्चित ही यह कार 20 वीं शताब्दी की एतिहासिक कार थी। अमेरिकियों की जिंदगी में तो इसकी खास जगह थी।ड्ढr उन्होंने कहा कि यूएस में सामाजिक परिवर्तन लाने की वजह से इस मॉडल का महत्व और भी बढ़ जाता है। हीटमैन के अनुसार इस मॉडल को उस समय किसानों और अमेरिका के ग्रामीण क्षेत्रों में भी अपनाया गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आम आदमी की पहली कार होगी सौ साल की