DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विख्यात वायलिन वादक वैद्यनाथन नहीं रहे

प्रसिद्ध वायलिन वादक कुन्नाकुडी आर. वैद्यनाथन का सोमवार रात निधन हो गया। वे 73 वर्ष के थे। दक्षिण भारतीय शास्त्रीय संगीत में एक अलग पहचान बनाने वाले वैद्यानाथन का निधन दिल का दौरा पड़ने से हुआ। उनके पारिवारिक सूत्रों के अनुसार इलाज के लिए उन्हें हाल ही में एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। वायलिन की धुनों के साथ प्रयोग करने वाले वैद्यनाथन को वर्ष 2005 में पद्मश्री से नवाजा गया था। उनके पिता रामस्वामी शास्त्री दक्षिण भारतीय शास्त्रीय संगीत के ज्ञाता थे और उन्होंने ही वैद्यनाथन को संगीत और वैदिक ग्रंथों की शिक्षा दी थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: विख्यात वायलिन वादक वैद्यनाथन नहीं रहे