अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजनीति नहीं, पीड़ितों तक राहत पहुंचाएं: शत्रुघ्न

यह ‘मैन मेड’ या यूं कहें ‘मैन कमिटेड’ आपदा है। यह राजनीति की घड़ी नहीं है, आरोप-प्रत्यारोप फिर देखेंगे अभी तो सिर्फ एक ही काम किया जाना चाहिए। और वह है ज्यादा से ज्यादा लोगों तक राहत पहुंचाना। ऐसा कहना है पूर्व सांसद और सिने अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा का। वे मंगलवार को बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए राहत सामग्री पहुंचाने की कोशिशों पर संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। पूर्व सांसद ने इस घड़ी में सहयोग करने के लिए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, लालू प्रसाद, रामविलास पासवान, मायावती समेत सभी नेताओं की सराहना की।ड्ढr ड्ढr श्री सिन्हा ने दुख व्यक्त करते हुए कहा कि सरकारी मशीनरी की ओर से एनजीओ को जो सहयोग मिलना चाहिए वह नहीं मिल रहा है। उन्होंने बताया कि मधेपुरा में शिविर लगाने की कोशिश की गई, लेकिन सहयोग नहीं मिलने के कारण इसे त्रिवेणीगंज ले जाना पड़ा। उन्होंने कहा कि उनके इस प्रयास में महावीर मंदिर, सेवा भारती, प्रयास, तख्त हरमंदिर साहिब सभी का सहयोग प्राप्त है। राजधानी स्थित हीमोफिलिया अस्पताल के एक भाग को गोदाम बनाया गया है, जहां से राहत सामग्री प्रभावित इलाकों में भेजी जा रही है। उन्होंने कहा कि लोगों को राहत पहुंचाने की जिम्मेवारी सिर्फ सरकार के भरोसे नहीं छोड़ा जा सकता। एक सवाल के जबाव में उन्होंने सरकारी प्रयासों पर टिप्पणी करने से इंकार करते हुए कहा कि अभी इसका आकलन ठीक नहीं है। यह जांच का विषय है। पूर्व सांसद ने कहा पैसा बहुत आया है, इसका ठीक ढंग से वितरण हो यह ज्यादा जरूरी है। उन्होंने जया बच्चन और राज ठाकर विवाद पर कोई भी टिप्पणी करने से इंकार कर दिया। इस मौके पर डा. विनोद यादव, डा. जे के सिंह, डा. सुबोध कुमार सिन्हा, ब्रजेश रमन, संजय राम, संजय सहाय, संजय सिन्हा व रविशंकर, कुमार शैलेन्द्र समेत अन्य लोग मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राजनीति नहीं, पीड़ितों तक राहत पहुंचाएं: शत्रुघ्न