DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेरिट लिस्ट प्रकाशन में गड़बड़ी: छात्रों ने मचाया हंगामा

पुस्तकालय विज्ञान विभाग में मेरिट लिस्ट प्रकाशन में गड़बड़ी की शिकायत को लेकर छात्रों ने जमकर हंगामा मचाया। छात्रों ने पुस्तकालय सूचना पट्ट पर लगी मेधा सूची को फाड़ दिया और नए सिर से इसके प्रकाशन की मांग करने लगे। छात्रों का कहना था कि मेरिट लिस्ट के प्रकाशन में गलत तरीके से कम अंक वाले छात्रों को मौका दिया गया है जबकि अधिक अंक वाले छात्र नामांकन पाने से वंचित रह जाएंगे।ड्ढr दोपहर लगभग 12 बजे से छात्रों का हंगामा शुरू हो गया। वे विवि प्रशासन द्वारा पटना विवि के छात्रों की अनदेखी करने का मुद्दा उठा रहे थे। पहले भी विभाग द्वारा प्रकाशित मेरिट लिस्ट को छात्रों ने निशाना बनाया था।ड्ढr ड्ढr आक्रोशित छात्रों का कहना था कि पहले इस कोर्स में नामांकन के लिए पटना विवि व अन्य विवि के छात्रों के बीच 60-40 का औसत रहता था लेकिन इस बार इसमें बदलाव किया गया है। वह पटना विवि व अन्य विवि के छात्रों के बीच 80-20 के औसत व्यवस्था को लागू करने की मांग कर रहे थे। उनका कहना था कि यह स्नातकोत्तर स्तर का कोर्स है और इसमें उसी प्रकार की व्यवस्था होनी चाहिए।ड्ढr इस संबंध में पुस्तकालय विज्ञान विभाग के अध्यक्ष डा. आरके मिश्र ने कहा कि विवि प्रशासन ने बैचलर इन लाइब्रेरी साइंस कोर्स को स्नातक स्तर का पाठय़क्रम मानते हुए इसमें 50 फीसदी पटना विवि व 50 फीसदी अन्य विवि के छात्रों का नामांकन कराने का निर्देश जारी किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मेरिट लिस्ट प्रकाशन में गड़बड़ी: छात्रों ने मचाया हंगामा