अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीएसपी ने कहा था-गोली चलाओ

हलगांव गोलीकांड की सुनवाई के दौरान बुधवार को तीन सरकारी गवाहों के बयान दर्ज किए गए। न्यायमूर्ति सदानन्द मुखर्जी के समक्ष बीएमपी े मनोज कुमार सिंह और बबन कुमार सिंह, तत्कालीन डीएसपी के बॉडीगार्ड पंका सिंह ने बताया कि आंदोलन के दूसर दिन 1ानवरी को भी ऐसी परिस्थिति बन गई थी कि गोली चलानी पड़ी। बीएमपी के एक जवान ने कहा कि डीएसपी के आदेश पर फायरिंग की गई। भीड़ काफी उग्र थी और पुलिस पर पत्थर चला रही थी। लोग पुलिस की रायफल छीनना चाह रहे थे। तब डीएसपी ने कहा कि गोली चलाओ नहीं तो जान नहीं बचेगी। एक गोली चलाई गई तो भीड़ और उग्र हो गई।ड्ढr ड्ढr तब पुलिस ने भागते हुए दो चक्र गोलियां चलाईं। स्वतंत्र गवाह फरीद खान ने कहा कि उन्होंने अपनी छत से देखा कि पुलिस भाग रही थी और लोग पत्थर चला रहे थे। इसपर नागरिक संघर्ष समिति के सुनील पासवान ने जवानों से पूछा कि पत्थर से आपको कहां चोट लगी, आपने कहां इलाज करवाया? इसपर जवान कुछ नहीं बोल सके। आयोग की सुनवाई13 सितम्बर को भी होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: डीएसपी ने कहा था-गोली चलाओ