DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर हैं दिल्ली की निगाहें

रणजी चैंपियन दिल्ली के लिए यह दूसरी टीमों से जल्दी सीजन शुरू होने और दो मैच ज्यादा खेलने का मामला है। इसे टीम पॉजिटिव ढंग से ले रही है। टीम का जोर सीजन के शुरुआती दो मैचों में हार-ाीत से ज्यादा यह फायदा देखने पर है कि जब रणजी मैच शुरू होंगे उससे पहले खिलाड़ी लय में आ चुके होंगे। दिल्ली नए सीजन की शुरुआत पाकिस्तान की राष्ट्रीय चैंपियनशिप कायदे आजम ट्रॉफी की चैंपियन सुई नॉर्दर्न गैस पाइपलाइन लिमिटेड (एसएनजीपीएल) टीम के खिलाफ सोमवार से फिरोशाह कोटला स्टेडियम में मोहम्मद निसार ट्रॉफी के चार दिवसीय मैच में खेलकर करगी। कोच विजय दहिया की निगाहें इस मैच से ज्यादा 24 सितंबर से शेष भारत टीम के खिलाफ वडोदरा में होने वाले ईरानी कप मैच पर लगी हुई हैं। उसमें दिल्ली का मुकाबला ऐसी सशक्त टीम से होगा जिसमें सचिन तेंदुलकर, अनिल कुंबले और राहुल द्रविड़ सहित देश के वो सभी सितार खेलेंगे जो दिल्ली टीम में नहीं हैं। इसमें हार-ाीत से ज्यादा जोर इस बात पर रहेगा कि अगर कोई खिलाड़ी इसमें विकेट चटकाता है या रन बनाता है तो उसे जो आत्मविश्वास और लय मिलेगी उससे दिल्ली टीम को रणजी खिताब बचाने के अभियान में काफी फायदा हो सकता है। पाकिस्तानी टीम के खिलाफ दिल्ली टीम की कमान विरन्दर सहवाग के हाथों में है, लेकिन यह तय नहीं है कि वह कल खेलेंगे या नहीं। वैसे पक्का यह भी नहीं है कि जबर्दस्त फॉर्म में चल रहे गौतम गंभीर भी खेलेंगे या नहीं। ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि टॉस से पहले इन दोनों के बीच मैच में खेलने पर टॉस होगा। सहवाग और इशांत शर्मा के चोटों से उबरने के सवाल पर दहिया ने कहा ‘हमारे 15 खिलाड़ी खेलने के लिए पूरी तरह से फिट हैं। खेलने वाले 11 खिलाड़ी सोमवार की सुबह ही तय करंगे।’ पिछली बार की तरह इस बार भी सीजन के पहले मैच से पूर्व सिर मुंडवा चुके दहिया ने ऐलान किया कि, ‘हम पिछली बार की तरह इस बार भी आक्रामक क्रिकेट खेलेंगे।’ लेकिन पांच गेंदबाजों के साथ उतरने के सवाल पर उन्होंने कहा ‘टीम में रात भाटिया के रहते पांच गेंदबाज उतारना लक्ारी होगी।’ पिच के मिजाज और पूरी ताकत के हिसाब से देखा जाए तो दिल्ली टीम कल तीन तेज गेंदबाजों इशांत शर्मा, आशीष नेहरा, प्रदीप सांगवान और एक स्पिनर चेतन्य नंदा या नरिंदर सिंह के साथ उतरगी। क्यूरटर राधेश्याम शर्मा ने कहा ‘पिच पर घास है और यह तेज गेंदबाजों की मदद करगी।’ वहीं मैदान के इंचार्ज पूर्व टेस्ट क्रिकेटर चेतन चौहान और दहिया का मानना है कि, ‘यह कोटला की पिच है और इस पर स्पिनरों को खासी मदद मिलेगी।’मेहमान टीम में कप्तान मोहम्मद हफीा सहित तीन अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी मिस्बाह उल हक और समीउल्लाह खान हैं। इनके अलावा अंडर-1विश्व कप में खेल चुके अनेक युवा खिलाड़ी हैं। दिल्ली टीम में मौजूद स्टार खिलाड़ियों को देखते हुए पाक टीम को जीत की उम्मीद बहुत कम नजर आ रही है। जीत की संभावना पर मैनेजर सादत अली ने धीमे स्वर में कहा ‘उम्मीद करते हैं कि हम जीतेंगे।’ हफीा ने कहा ‘हमार ऊपर कोई दबाव नहीं है, हम भी पाक के राष्ट्रीय चैंपियन हैं। दिल्ली के पास ज्यादा स्टार हैं तो हमार पास भी अच्छी टीम है।’ मिस्बाह उल हक ने कहा ‘टीम के कुछ खिलाड़ी यहां पहले मैच खेल चुके हैं। यह एक महत्वपूर्ण मैच है। नए लड़कों के पास बेहतर करने का मौका है। सबकी निगाहें उन पर रहेंगी। हार जीत से ज्यादा महत्व इस बात का है कि हम हिन्दुस्तान की चैंपियन टीम के खिलाफ खेल रहे हैं और सभी अपनी क्षमता और योग्यता के अनुसार सौ प्रतिशत प्रदर्शन करंगे।’ कोटला की पिच को देखने से पहले ही हफीा ने कहा ‘यहां कि पिच वैसी ही होगी, जसी पाकिस्तान में होती है। इस पर कुछ घास रहेगी और हमार पास तीन अच्छे तेज गेंदबाज हैं।’ स्पिनरों के बार में पूछने पर हफीा ने कहा ‘ लेफ्ट ऑर्म स्पिनर इमरान खालिद हैं। वही काफी हैं।’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर हैं दिल्ली की निगाहें