DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

युवती की हत्या या हादसा!

संदिग्ध परिस्थितियों में एक युवती की मौत के बाद बुधवार की सुबह इलाके में सनसनी फैल गई। घटना मंगलवार की देर रात पालीगंज के अंकुरी गांव में हुई। मृत युवती सरो कुमारी रामईश्वर मिस्त्री की बेटी थी। उसकी अगले महीने ही शादी होने वाली थी। सूचना के बाद पुलिस ने शव कब्जे में ले पोस्टमार्ट्म के लिए भेज दिया। सरो की मां पार्वती देवी और पिता रामईश्वर मिस्त्री ने पड़ोसी दिलीप गोसांई को आरोपित करते हुए बताया कि वह घर में चोरी करने घुसा था, लेकिन बेटी की नींद खुल गई और वह उससे उलझ गई। इससे घबरा कर उसने सरो को छत से धक्का दे दिया। बेटी की चीख सुन नींद खुलने पर जब तक वह माजरा समझती सरो मर चुकी थी और दिलीप भाग रहा था।ड्ढr ड्ढr उनकी मानें तो जाते-ााते वह नकदी, कपड़े, गहने समेत करीब 40 हाार की संपत्ति भी साथ ले गया। हालांकि पुलिस इसे लूट की घटना नहीं मानती। वहीं सूत्रों ने बताया कि मृत युवती और आरोपी युवक के बीच नजदीकी ताल्लुकात थे। पार्वती ने पड़ोसी दिलीप गोसाईं, उसके भाई संतोष गोसाईं व चाचा विनोद गोसाईं के खिलाफ थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। इनमें से विनोद को पुलिस ने तुरंत गिरफ्तार कर लिया। बाकी अभियुक्तों की तलाश में छापेमारी जारी है।ड्ढr डीएसपी अरविंद ठाकुर ने भी मौके का जायजा लेने के बाद मामले को संदिग्ध मानते हुए बताया कि अनुसंधान के बाद जल्द ही दूध का दूध और पानी का पानी सामने आ जाएगा। फिलहाल इस वाकए के बाद अंकुरी गांव और आसपास के इलाके में चर्चाओं का बाजार गर्म है। डोली की जगह उठी सरो की अर्थीड्ढr आलोक कुमार पालीगंजड्ढr बेटी के हाथ पीले होंगे। घर बारात आएगी। शादी में मेहमान आएंगे। खुशियां ही खुशियां होंगी। क्या-क्या सोच रखा था सरो की मां पार्वती ने, लेकिन बेटी को डोली में विदा करने की तमन्ना पूरी होती, इससे पहले ही बुधवार को उसकी अर्थी उठ गई। अंकुरी स्थित घर पर लोगों की भीड़ थी। सबके सब सरो की मौत से अवाक और गमगीन थे। पिता रामईश्वर मिस्त्री ने रोते हुए बताया कि 30 मई को तिलक और 6 जून को बारात आनी थी। दुल्हिनबाजार के धाना गांव में रामबाबू मिस्त्री के यहां शादी तय थी। तीनों भाई लक्ष्मण, भरत और गुड्डू भी छोटी बहन की इस तरह अचानक मौत से अपने आंसू नहीं रोक पा रहे थे। वहीं सरो की हत्या हुई है या उसने मजबूरी में खुद मौत को गले लगा लिया, या फिर चोरी के दौरान पड़ोसी ने ही वास्तव में छत से उसे धक्का दे दिया, यह रहस्यमय बना हुआ है। गांव वाले भी इस मुद्दे पर खुलकर नहीं बोलना चाहते। अब देखना है कि सरो की मौत का राज कब पर्दाफाश हो पाता है। फिलहाल अंकुरी में गम का माहौल है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: युवती की हत्या या हादसा!