अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सवा सौ मुन्ना भाई

मजाहिया शायरी (हास्य कविता) के शौकीनों के दिलों में आज भी मरहूम अकबर इलाहाबादी की याद ताजा होगी। अकबर साहब पेशे से इलाहाबाद में कोर्ट के जज थे, और शौक से शायर। एक जगह लिखते हैं- ‘खुदा महफूा रखे आपको तीनों बलाओं से.. तबीबों (डॉक्टरों) से, वकीलों से, हसीनों की निगाहों से।’ अकबर साहब शायद इतने दूरंदेश थे कि 70 साल पहले से ही अंदाजा लगा लिया था कि डॉक्टरी के नेक पेशे में कुछ मुन्ना भाई भी घुस आएंगे और जीते जी मरीा का पोस्टमार्टम करवा डालेंगे। पढ़ता क्या हूं कि सूबे के कई मेडिकल कॉलेजों में 124 मुन्ना भाई, जुगाड़ बिठा कर, एमबीबीएस की तालीम हासिल कर रहे हैं। चढ़ी हुई धूप को मुंडेर लांघते देर लगती है क्या? देश के दूसर मेडिकल कॉलेजों में भी शायद इनका गुजर हो चुका हो। छाने तब पता लगे कंकरों का। रिपोर्ट में कहा गया है कि हेरफेर करके ये लोग मेरिट में आ गए। दाखिला दिलाने वाले गिरोह ने, मोटी रकम लेकर सेंध मार दी। मेडिकल प्रवेश के रिाल्ट के बाद काउंसिलिंग में भी मनचाही सीटें हासिल कर लीं ओर मुन्ना भाई एमबीबीएस के छात्र हो गए। जान से खेलने का लाइसेंस मिल गया गोया। पोल खुली तस्वीर से। प्रवेश फार्म पर लगी तस्वीर का सीपीएमटी फार्म की तस्वीर से अलग थी। अगर डिग्री मिल जाती तो मरीा कफन और कब्र की मिट्टी शायद साथ लेकर ही जाते। डॉक्टरी के पवित्र और जिम्मेदार पेशे पर दाग लगता सो अलग से। नीम हकीम खतरा जान..नीम मुल्ला, खतरा ईमान। काले कपड़े पर कोई रंग नहीं चढ़ता, मगर काले दिल का इंसान रो रंग बदलता है। कब्ज का मरीा मुन्ना भाई ब्रांड डॉक्टर के वहां पहुंचा। डॉक्टर ने शर्ट उठाई और कई बार पेट पर एक छोटी सी हथौड़ी से ठुक- ठुक किया। मरीा बोला कि मेर पेट के अंदर कोई तबले की जोड़ी है, जिसका स्वर ठीक कर रहे हो आप? इंसानी जिन्दगी आज चाहे जितनी भी सस्ती हो, मगर इतनी सस्ती नहीं कि उसे अनाड़ियों के हाथों सौंप दी जाए। दिन-रात परिश्रम करके मेडिकल प्रवेश में बैठने वाले मेधावी छात्रों का क्या कसूर है कि उनकी सीटें (दौलत और एजेंटों की बदौलत) निकम्मे मुन्ना भाई ले जाएं? कम से कम डाक्टरी के नाजुक और ईमानदार पेशे को तो बख्श दो। शतरां के मोहर सोने के हों या हीर के, खेलना नहीं सिखा देते। एमबीबीएस कर भी लिया। इसके बाद? एक ऐसी किताब बन कर रह जाओगे जिसका पहला और आखिरी वर्क फट गया हो। खुदा खुद मार दे..मुन्ना भाइयों से हिफाजत कर।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सवा सौ मुन्ना भाई