DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बरकरार है टीम में वापसी की उम्मीद : आकाश

आकाश चोपड़ा को समझ में नहीं आ रहा है कि चयनकर्ता को खुश करने के लिए और क्या करें? बीते घरेलू सीजन में उन्होंने रणजी और वनडे मैचों में जमकर रनों का अंबार लगाया है और नए सीजन के पहले मैच में शतक से शुरुआत करने से महा 7 रन दूर हैं। भारत ए टीम में जगह न मिलने से उन्हें काफी निराशा हुई है, लेकिन उन्होंने उम्मीद नहीं छोड़ी है। मंगलवार को मोहम्मद निसार ट्रॉफी के मैच में रन की अविजित पारी खेलने के बाद चोपड़ा ने कहा, ‘मैंने अभी टीम में आने की उम्मीद नहीं छोड़ी है। मैं चयनकर्ताओं को दिखाने के लिए नहीं बल्कि अपनी संतुष्टि के लिए खेल रहा हूं। हम प्रोफेशनल खिलाड़ी हैं और रन बनाना हमारा काम है। अगर हम राष्ट्रीय टीम में न चुने जाएं और रन भी न बनाएं तो यह अपने पैर में गोली मारने की तरह होगा। हर खिलाड़ी की इच्छा होती है कि वह अच्छा प्रदर्शन करते हुए भारतीय टीम के लिए खेले। मेर साथ भी ऐसा ही है। मैं भी फिर से भारतीय टीम में वापसी करना चाहता हूं।’ मैच में दिल्ली टीम की संभावनाओं पर चोपड़ा ने कहा, ‘मैच का परिणाम अपने पक्ष में करने के लिए हमें अभी और रन बनाने होंगे। अभी हमारी तरफ से आधा काम ही हुआ है। हमने कोई टारगेट सेट नहीं किया है। विराट कोहली की तारीफ करते हुए चोपड़ा ने कहा, विराट अच्छे बल्लेबाज हैं और हमार बीच तालमेल भी अच्छा रहता है। इसलिए हमें ज्यादा कुछ एक दूसर को समझाने की जरूरत नहीं पड़ती। हम काफी समय से साथ खेल रहे हैं।’ पाकिस्तान के लिए 66 रन की सबसे बड़ी पारी खेलने वाले खुर्रम शहााद ने अपनी टीम को पहली पारी में बड़ी बढ़त न लेने पर असंतोष जताया। उन्होंने कहा, ‘इस पिच पर गेंदबाजो के लिए कुछ नहीं है और हमें तो आज पूर दिन बल्लेबाज करनी चाहिए थी। लेकिन अब उम्मीद करते हैं कि हमें दिल्ली जीत के लिए 350 रनों से ज्यादा का लक्ष्य न दे। आज सुबह से निकली धूप ने पिच को आसान कर दिया था।’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बरकरार है टीम में वापसी की उम्मीद : आकाश