अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जो कुछ हुआ उसका मुझे खेद है : सायमंड्स

मछली पकड़ने के प्रकरण के चलते ऑस्ट्रलियाई क्रिकट टीम से बाहर किए गए हरफनमौला क्रिकट खिलाड़ी एंड्रयू सायमंड्स ने अपने व्यवहार के लिए सार्वजनिक तौर पर माफी मांगी है। इस महीने की शुरुआत में डार्विन में बांग्लादश के साथ खेली गई एकदिवसीय सीरीज के बाद पहली बार बयान देते हुए सायमंड्स ने कहा कि वे अपने व्यवहार के लिए शर्मिदा हैं और फिर से अपन क्लब, प्रांत और राष्ट्रीय टीम क लिए खलना चाहत हैं। ऑस्ट्रलिया क समाचार पत्र ‘दी ऑस्ट्रलियन’ न सायमंड्स क हवाल स लिखा है,‘जो कुछ हुआ उसका मुझ खद है। मैं खुद को बहतर क्रिकटर क साथ-साथ बहतर इनसान बनान की प्रक्रिया स गुजर रहा हूं। मैं अपन क्लब, प्रांत और दश क लिए फिर स खलना चाहता हूं।’ सायमंड्स न अपन परिवार, दोस्तों, टीम क साथियों और यहां तक कि प्रशंसकों स भी माफी मांगी है। यही नहीं, सायमंड्स न डार्विन सीरीज में टीम क कप्तान रह माइकल क्लार्क और एक दिन पहल अपनी आलोचना करन वाल पूर्व स्पिनर शन वार्न स भी माफी मांगी। सायमंड्स न साफ तौर पर कहा कि टीम स बाहर रहकर उन्हं अपनी गलतियों का अहसास हो गया है। बकौल सायमंड्स, ‘क्रिकट मरी जिंदगी है। मर लिए टीम स बाहर रह पाना नामुमकिन है। मुझ आशा है कि आन वाल दिनों मं मैं बहतर इनसान क रूप मं नजर आऊंगा।’उल्लखनीय है कि डार्विन मं बांग्लादश क साथ खली गई तीन मैचों की एकदिवसीय सीरीज क दौरान सायमंड्स न टीम बैठक और अभ्यास सत्र मं हिस्सा नहीं लेकर अनुशासन भंग किया था। सीरीज क पहल मैच की टीम की बैठक स ठीक पहल सायमंड्स मछली पकड़न निकल गए थ। इसस नाराज क्रिकट ऑस्ट्रलिया न उन्हं पूरी सीरीज क लिए टीम स बाहर कर दिया था। इसक बाद सायमंड्स को भारत क साथ अक्टूबर-नवंबर मं खली जान वाली चार मैचों की टस्ट सीरीज क लिए चयनित टीम मं भी शामिल नहीं किया गया।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जो कुछ हुआ उसका मुझे खेद है: सायमंड्स