DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

न्यायिक जांच आयोग से भाग रहे लालू:शिवानंद

जदयू ने आरोप लगाया है कि राजद के 15 वर्षो के शासनकाल में सूबे के बाढ़पीड़ितों पर पांच बार गोलियां चलीं और 1लोगों को मौत के घाट उतारा गया। पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शिवानंद तिवारी ने कहा कि लाठीचार्ज तो अनगिनत बार किया गया। अब ऐसे लोग नीतीश सरकार के राहत कार्यो पर अंगुलियां उठाएं तो हैरत होती है। उन्होंने आरोप लगाया कि रलमंत्री लालू प्रसाद न्यायिक जांच आयोग से भाग रहे हैं। यही नहीं पूर्व सिंचाई मंत्री जगदानंद भी अपनी पोल खुलने के डर से भयभीत हैं। यही कारण है कि राजद के नेता कायदा-कानून ताक पर रखकर काम करने लगे हैं। हास्यास्पद है कि अभियोग लगाने वाले ही जांच कर रहे हैं और सजा सुना रहे हैं।ड्ढr ड्ढr श्री तिवारी ने कहा कि 18 सितम्बर 1ो कोठिया में बाढ़पीड़ितों पर गोली चली और 3 लोग मार गए। 11 अगस्त 1ो सीतामढ़ी में पूर्व विधायक समेत चार बाढ़पीड़ितों की मौत गोली चलाने से हुई। 6 अगस्त 2001 को औराई में गोली चली और 6 अति निर्धन बाढ़पीड़ित मार गए। 4 अगस्त 2004 को वैशाली में और 16 अगस्त को मनीगाछी में बर्बर तरीके से गोली चलाई गई जिसमें 4 लोग मार गए। नीतीश कुमार ने गत वर्ष बाढ़ में ढाई करोड़ पीड़ितों तक जो राहत कार्य किया, वह इतिहास है और सभी उसके कायल हैं। दूसरी ओर लालू प्रसाद के शासनकाल में जो हुआ वह भी किसी से छुपा नहीं है। वर्ष 2004 में राहत घोटाला हुआ और उनके परिजन तक उसमें अभियुक्त बने। अब गैर जिम्मेदाराना बयान देकर लोगों को भड़का रहे हैं।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: न्यायिक जांच आयोग से भाग रहे लालू:शिवानंद