अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आप ही हैं जिम्मेदार

विपक्ष का कहना है कि धमाकों के लिए सरकार जिम्मेदार है। सरकार का मानना है कि इसकी जिम्मेदारी सुरक्षा एजेंसियों पर ज्यादा है। पुलिस का तर्क है आम आदमी की मदद के बिना इससे निपटना मुश्किल है। मतलब अगर आम आदमी हमलों में मारा जा रहा है तो इसके लिए वो खुद जिम्मेदार है। अगर आप हमले में घायल हुए हैं तो अपने गाल पर दो थप्पड़ मारं कि आखिर मैं आंखें बंद कर क्यों चलता हूं। अगर आपका कोई परिचित हमले में शहीद हो गया तो आप मानिए कि उसकी किस्मत खराब थी। मतलब ये कि जिस आतंकवाद पर इतना हल्ला किया जा रहा है उसका निचोड़ यह है कि आदमी या तो अपनी लापरवाही से मारा जाता है या फिर अपनी बदकिस्मती से। अगर आप डस्टबिन में पड़े बम के फटने से मर तो इसलिए क्योंकि आप कुछ भी खा कर डस्टबिन में नहीं फेंकते। अगर फेंकते होते तो शायद बम देख पाते। लिहाजा कूड़ेदान में फटे बम के लिए सरकार नहीं आपके संस्कार जिम्मेदार हैं। आपके मरने या जिंदा रहने के कारण पूरी तरह व्यक्ितगत हैं। अगर आप आज भी जिंदा है तो इसका सीधा सा मतलब है। अभी आपका वक्त नहीं आया। जसे बसों में लिखा रहता है सवारी अपने सामान की खुद जिम्मेदार है उसी तरह इस देश में ये अलिखित नियम आदमी अपनी जान का खुद जिम्मेदार है। ये बातें सरासर बकवास हैं कि इस देश में एक गृहमंत्री है, सुरक्षा एजेंसियां हैं और भांति-भांति के पुलिस वाले हैं जिनकी जिम्मेदारी है आपको सुरक्षा देना। बहुत सी चीजों की तरह ये सब भी आयातित विचार हैं। जसे स्ट्रीट लाइट और ट्रैफिक सिग्नल आयातित विचार हैं। वो लगे हैं लेकिन ये जरूरी नहीं है कि काम करं। उसी तरह लोकतंत्र में एक सरकार होती है। उसमें एक प्रधानमंत्री होता है तो एक गृहमंत्री भी। आप ये समझिए कि इस देश में किसी भी चीज के होने या न होने में इनका कोई योगदान नहीं है। आप दिल्ली में रहते हैं तो सुनामी का आपको कोई खतरा नहीं। ऐसा नहीं कि यहां ड़िाास्टर मैनेजमैंट बहुत उत्तम है। वो इसलिए क्योंकि यहां समुद्र नहीं है। अगर हर तीसर हफ्ते देश में बड़ा बम धमाका होता तो उसका ये मतलब नहीं कि बाकी वक्त सुरक्षा चौकन्नी है, सिर्फ इसलिए कि आतंकवादी हर तीसर हफ्ते ही हमला करना चाहते हैं। और आखिर में जो आदमी हर पल अपना दामन दागदार करवा रहा हो, कम से कम उसे इतनी छूट तो दें कि वो दो घंटे में तीन सूट बदल पाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आप ही हैं जिम्मेदार