अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीतामढ़ी में बस ने 17 को रौंद डाला

सीतामढ़ी से सुरसंड जा रही एक बस ने बुधवार की देर शाम एनएच 77 पर रूपौली गांव में सड़क किनार टीवी पर फिल्म देख रहे 17 लोगों को रौंद डाला। इस भयानक एवं हृदय विदारक घटना में डेढ़ दर्जन से अधिक लोग घायल होकर विभिन्न अस्पतालों में जीवन के लिए जूझ रहे हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि नशे में धुत ड्राइवर पागल की तरह सड़क किनार बैठे सिनेमा देख रहे लोगों को रौंद दिया। करीब 50 फीट तक लोगों को घसीटती हुई बस आगे बढ़ गई।ड्ढr ड्ढr इस दौरान बस के मडगार्ड तथा उसकी धुरी में लाशें फंस गईं थीं। बड़ी मुश्किल से स्थानीय लोगों ने नइ लाशों को निकाला। इसबीच मची अफरातफरी का लाभ उठा कर बस (बीआर 06 सी 3ा चालक लोगों को चकमा देकर फरार हो गया। इसी बीचगुरुवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दुर्घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए मृतकों के आश्रितों को एक-एक लाख रुपए मुआवजे के अतिरिक्त मुख्यमंत्री राहत कोष से भी 50-50 हजार रुपये सहायता देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने हादसे के कारणों की मजिस्ट्रेट से जांच कराने का भी आदेश दिया है। उन्होंने जिलाधिकारी को मुआवजे के भुगतान का आदेश देते हुए जांच की रिपोर्ट जल्द से जल्द तलब की है। दूसरी ओर परिवहन सचिव राजेश भूषण ने मुजफ्फरपुर आरटीए के उप परिवहन आयुक्त सह सचिव को उक्त बस का परमिट रद्द करने का आदेश दिया है।ड्ढr ड्ढr दुर्घटना की सूचना मिलते ही अपर समाहर्ता रामलखन रविदास, पुलिस अधीक्षक अजिताभ कुमार ने अन्य प्रशासनिक अधिकारियों के साथ पहुंचकर घायलों को सदर अस्पताल पहुंचाया। प्रशासनिक सूत्रों के अनुसार सरो पासवान, रंभू साह, राजाराम साह, सुशील साह, सुखलाल राम, महेन्द्र बैठा, सिकंदर बैठा, श्याम साह, श्रीनारायण पासवान, शैलेन्द्र राम, मुकेश राय, मुकेश पासवान की मौत घटनास्थल पर हो गयी जबकि दो लोगों की मौत सदर अस्पताल में हुई। गंभीर रूप से घायलों को मुजफ्फरपुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में रफर किया गया। तीन लोगों को इलाज सदर अस्पताल में हो रहा है। स्थानीय लोग जहां 17 लोगों के मरने का दावा कर रहे हैं, वहीं जिला प्रशासन 12 व्यक्ित के घटनास्थल पर और दो के अस्पताल में यानी कुल 14 के मरने की पुष्टि कर रहा है।ड्ढr ड्ढr घटनास्थल पर बिहार सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री शाहिद अली खान ने पहुंच कर स्थिति का जायजा लिया। घटनास्थल पर मौजूद स्थानीय लोगों के साथ सांसद सीताराम यादव, बथनाहा के विधायक नगीना देवी, पूर्व सांसद अनवारुल हक, राजद नेता शिवशंकर यादव, लोजपा जिलाध्यक्ष मोहन झा सड़क जाम कर मुख्यमंत्री को बुलाने की मांग पर अड़े हुए थे। जिलाधिकारी विजय कुमार व पुलिस अधीक्षक अजिताभ कुमार ने लोगों को समझा-बुझा कर जाम समाप्त करवाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सीतामढ़ी में बस ने 17 को रौंद डाला