DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुंबले केचच साथ खेलना भाग्य कचची बात है: हरभजन

ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने कहा है कि वह बहुत भाग्यशाली हैं कि उन्हें महान गेंदबाज अनिल कुंबले के साथ खेलने का मौका मिला। हरभजन ने शनिवार को यहां कहा कि मैं बहुत भाग्यशाली हूं कि मुझे ऐसे महान स्पिनर के साथ खेलने का मौका मिला। उनके साथ गेंदबाजी करने में मुझे बहुत आनंद आता है। दूसरे छोर पर अच्छे गेंदबाज का होना हमेशा अच्छा होता है। कुंबले के साथ खेलते हुए कभी मैंने विकेट लिए कभी उन्होंने लिए। हमने एक दूसरे को हमेशा ही प्रोत्साहित किया। टीम में गेंदबाजों की जोड़ी के महत्व पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि टीम में जोड़ी के रूप में शामिल गेंदबाजों को प्रतिद्वंद्वी टीम के बल्लेबाजों पर दबाव बनाने के लिए अच्छी गेंदबाजी करनी होती है। यदि कुंबले एक छोर से दबाव बनाते हैं तो मैं आक्रमण करता हूं। जबकि जब मैं दबाव बनाता हूं तो वह आक्रमण करते हैं। यह इस बात पर निर्भर करता है कि उस दिन उस विशेष परिस्थिति में कौन अच्छी गेंदबाजी कर रहा है और कौन नहीं। उल्लेखनीय है कि हरभजन और कुंबले ने एक साथ 53 टेस्ट खेलते हुए कुल 4विकेट झटके हैं जो कि मौजूदा भारतीय टीम द्वारा लिए गए विकेटों का 60 प्रतिशत के आसपास है। दोनों ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सात टेस्ट मैच खेलते हुए 78 विकेट लिए हैं। कुंबले ने 25.68 के औसत से 47 विकेट जबकि हरभजन ने 36.45 के औसत से 31 विकेट लिए हैं। हरभजन टेस्ट क्रिकेट में 300 विकेट पूर करने के करीब हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कुंबले केचच साथ खेलना भाग्य कचची बात है: हरभजन