अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वित्तीय संकट से उबरने के लिए बुश की योजना

अमेरिका में बुश प्रशासन ने आर्थिक संकट से उबरने के लिए एक व्यापक वित्तीय योजना तैयार की है। अमेरिकी वित्त मंत्रालय की ओर से यह योजना शीघ्र ही अमेरिकी कांग्रेस को भेजी जाएगी। अमेरिका के राष्ट्रपति जार्ज डब्ल्यू. बुश ने कहा कि यह अमेरिकी अर्थव्यवस्था के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण क्षण है। उन्होंने कहा कि संघीय सरकार को बाजार के मामले में तभी हस्तक्षेप करना चाहिए जब बहुत जरूरी हो लेकिन आज के आर्थिक हालात और अमेरिकी नागरिकों के जीवन पर पड़ रहे उसके व्यापक असर को देखते हुए सरकार का इस मामले में दखल देना बेहद जरूरी हो गया है। बुश ने कहा कि यह अमेरिकी अर्थव्यवस्था के लिए अभूतपूर्व संकट का मौका है इसलिए इससे निबटने के लिए सरकार भी अभूतपूर्व कदम उठाने जा रही है। राष्ट्रपति ने स्पष्ट किया कि हालांकि इस सरकारी कदम के अपने खतर भी हैं क्योंकि डूबे करो के लिए करोड़ों डालर का भार देश के आयकर दाताओं पर पड़ेगा। बुश ने कहा कि फिलहाल इस समस्या से उबरने का और कोई रास्ता नहीं है। अमेरिकी वित्त मंत्रालय की ओर से कांग्रेस को भेजी जाने वाली योजना में बुश ने एक नई सरकारी बीमा योजना का विवरण पेश किया है। इसमें म्युचुअल फंडों के लिए गारंटी, सेलिंग पर रोक, बैंकों को केंद्रीय बैंक से आपात स्थिति में र्का देने की सुविधा समेत वित्तीय संकट का सामना कर रहे संस्थानों के राष्ट्रीयकरण का इंतजाम करना शामिल है। ओबामा बोले-विदशी मदद जरूरी : अमरिका मं वित्तीय संकट दूर करन क लिए राष्ट्रपति पद क डमोकट्र उम्मीदवार बराक ओबामा न विश्व की औद्योगिक और तजी स उभरती अर्थव्यवस्थाओं को सहयोग करन को कहा है। फ्लोरिडा मं संवाददताओं स बातचीत में ओबामा ने कहा, ‘अमरिकी सरकार द्वारा बनाई गई कोई भी योजना जी-20 क सहयोगियों को शामिल करक वैश्विक सहयोग क प्रयास का हिस्सा होनी चाहिए।’ उन्होंन कहा कि यह एक विश्वव्यापी मुद्दा है और अमरिका जबकि साख बाजार को स्थिर करन मं अग्रणी भूमिका निभा सकता है और निभाएगा, तो एस मं उस अन्य दशों स भी जो इस संकट का भागीदार रह हैं, उन्हं इसक समाधान का हिस्सा बनन को कहा जा सकता है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: वित्तीय संकट से उबरने के लिए बुश की योजना