DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आतंकवाद को खत्म करके ही दम लूंगा: जरदारी

पाकिस्तान में अब तक हुए सबसे भीषण आतंकवादी हमले के एक दिन बाद नव निर्वाचित राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने कहा कि आतंकवाद पाकिस्तान में एक महामारी बन चुका है और वह इसका खात्मा करके ही दम लेंगे। रविवार सुबह राष्ट्र को संबोधित करते हुए पाक राष्ट्रपति ने कहा कि यह हमला ऐसे समय पर किया गया है जब देश के लोग लोकतंत्र की बहाली का जश्न मना रहे हैं। उन्होंने देश के लोगों से कहा कि वे अपने दर्द को अपनी ताकत बनाते हुए पाकिस्तान को बचाने के लिए सामने आएं। उन्होंने कहा, ‘हम इन कायराना हमलों से नहीं डरंगे। हम पाकिस्तानी मानते हैं कि हमारी मौत अल्लाह के हाथ में है और हम मरने से नहीं डरते हैं।’ जरदारी संयुक्त राष्ट्र महासभा क 63वं सत्र मं भाग लन क लिए रविवार को अमरिका रवाना हो गए। जरदारी के मंगलवार को अमरिकी राष्ट्रपति जार्ज बुश क साथ आतंकवाद विरोधी रणनीति और अल कायदा तथा तालिबान क आतंकवादियों को निशाना बनान क लिए पाकिस्तानी सीमा मं अमरिकी घुसपैठ क मुद्द पर चर्चा करन की आशा है। आधिकारिक रूप स सोमवार को आरंभ हो रह इस पांच दिवसीय दौर मं उनक साथ विदशमंत्री शाह महमूद कुरैशी और सूचना मंत्री शेरी रहमान भी शामिल हैं। गौरतलब है कि शनिवार को संसद क दोनों सदनों की संयुक्त बैठक क अपन संबोधन मं जरदारी न ‘कहीं भी छुप आतंकवादियों को ढूंढ़ निकालन’ का वादा किया था। उन्होंन अफगानिस्तान मं कार्यरत अमरिकी सनाआं क लगातार बढ़त हवाई हमलों का सीधा उल्लख करत हुए यह भी कहा कि पाकिस्तान आतंकवाद स मुकाबल क नाम पर ‘किसी भी शक्ति’ की घुसपैठ को बर्दाश्त नहीं करेगा। समाचार एजंसी डीपीए क अनुसार अमरिका न तीन सितम्बर को पाकिस्तान मं पहला जमीनी हमला भी किया। विषकों का मानना है कि कबायली इलाकों मं आतंकवादियों क ठिकानों पर सरकारी सनाओं क हमल का जवाब दन क लिए दश भर मं बम विस्फोट की घटनाएं बढ़ रही हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आतंकवाद को खत्म करके ही दम लूंगा: जरदारी