अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी में बारिश से 44 और की मौत

राजधानी लखनऊ व आसपास के क्षेत्रों में रविवार को भी घने बादलों के साथ बारिश का सिलसिला जारी रहा। बारिश ने रविवार को 44 जानें ले लीं। बीते 24 घंटों के दौरान मकान गिरने व मलबे में दब जाने की घटनाओं में सीतापुर में 15, शाहाहाँपुर-बाराबंकी में 10-10, लखीमपुर में आठ और गोण्डा में एक महिला की मौत हो गई। रविवार को सुबह साढ़े आठ से शाम साढ़े पाँच बजे के बीच प्रदेश में सबसे अधिक 28 सेण्टीमीटर वर्षा बनबसा में रिकार्ड की गई। उत्तराखण्ड के कुमाऊँ मण्डल में अतिवृष्टि की सूचना है जबकि बरली मण्डल में मूसलाधार बारिश हुई है।ड्ढr ड्ढr बरली में 21, बाराबंकी में 1रामसनेहीघाट में 16, पलियाकलाँ व निघासन और पंतनगर में 15-15, गोण्डा व एल्गिनब्रिज में 13-13, बहराइच व खीरी में 12-12, मलिहाबाद, शारदानगर में 11-11 और कानपुर में 7 सेण्टीमीटर वर्षा रिकार्ड हुई। लखनऊ में इस दरम्यान 4 सेण्टीमीटर वर्षा दर्ज की गई। नेपाल से 5.70 लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने से बस्ती में रविवार दोपहर तक घाघरा नदी खतर के निशान से 10 सेमी ऊपर बह रही थी। बाढ़ की आशंका देखते हुए तटवर्ती इलाकों के लोगों को जगह खाली करने के लिए कह दिया गया है। बाढ़ राहत शिविरों के लिए स्कूल खाली करा लिए गए हैं और शरणार्थियों के लिए प्रशासन की ओर से पूड़ी, सब्जी व अन्य आवश्यक सामानों की व्यवस्था की जा रही है।ड्ढr ड्ढr बाराबंकी में भी जिला प्रशासन बाढ़ से निपटने के उपाय कर रहा है। गोण्डा के करनैलगंज तहसील में बारिश के कारण दीवार गिरने से रविवार सुबह रघुराजी (65) पत्नी जगप्रसाद निवासी अल्लीपुर की मृत्यु हो गई। उसके परिानों को एक लाख रुपए की सहायता दी गई है। तरबगंज क्षेत्र में सात मवेशियों के मरने की भी खबर है। गोण्डा-लखनऊ रल मार्ग पर सरयू-ारवल स्टेशन के मध्य लाइन धँस जाने से रविवार को इस रूट की ट्रेनें अपलाइन से रोक-रोककर निकाली गईं। करनैलगंज तहसील क्षेत्र के करीब चार दर्जन से अधिक घर बरसात से गिर गए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: यूपी में बारिश से 44 और की मौत