अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कर्नाटक: फिर चर्चो पर हमलें

र्नाटक में ईसाई समुदाय के खिलाफ हिंसा रुकने का नाम नहीं ले रही। राज्य के तीन शहरों में फिर चार चर्चो पर हमला बोला गया। उधर, केरल में भी दो चर्चो में तोड़फोड़ की गयी। हालांकि, यहां यह करतूत कथित तौर पर मानसिक रूप से विकलांग एक व्यक्ित की बतायी जा रही है। इस बीच, उड़ीसा के हिंसाग्रस्त कंधमाल जिले में भी आगजनी और अपहरण की खबरं हैं। बंगलुरु पुलिस ने बताया कि रविवार तड़के अज्ञात लोग मारियन्ना पाल्या में एक चर्च में दरवाजा तोड़कर घुस गये और तोड़फोड़ की। उपद्रवियों ने शहर के राजाराजेश्वरी नगर और बनसवाड़ी तथा कुर्ग जिले के मुख्यालय मादिकेरी में एक-एक चर्च को निशाना बनाया। पुलिस ने बताया कि मंगलोर, उडुपी और चिकमंगलूर में तनावपूर्ण शांति रही। यहां किसी अप्रिय घटना की खबर नहीं है। राज्य में हिंसा की ताजा घटनाओं के बाद मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने उच्च स्तरीय बैठक कर स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि इसमें शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई होगी।उधर, उड़ीसा के कंधमाल जिले में सख्ती के बावजूद आगजनी और अपहरण की घटनाएं जारी हैं। गोच्चापाड़ा में 10 घरों को आग लगाये जाने और राहत शिविर में रह रहे एक युवक का अपहरण की खबर है। राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग ने कर्नाटक और उड़ीसा में हिंसा के लिए बजरंग दल को दोषी ठहराया है। आयोग के अध्यक्ष मोहम्मद सफी कुरैशी ने कहा कि हमारी टीमें दोनों इलाकों का जायजा लेकर लौट आयी हैं। दोनों ही जगह बजरंग दल के कार्यकर्ता हिंसा के लिए जिम्मेदार हैं।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कर्नाटक: फिर चर्चो पर हमलें