अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खास आपूर्तिकर्ताओं को फायदा पहुंचाने का आरोप

वास्थ्य विभाग अंतर्गत आरसीएच सोसाइटी नामकुम में करोड़ों रुपये की दवा खरीद से संबंधित टेंडर रद्द कर दिया गया है। लगातार गड़बड़ी की मिल रही शिकायतों के बाद स्वास्थ्य मंत्री भानू प्रताप शाही ने सोमवार को टेंडर रद्द करते हुए नये सिर से इसकी प्रक्रिया प्रारंभ करने का निर्देश विभागीय सचिव को दिया है। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि 250 एसेंशियल दवाओं की खरीद के लिए टेंडर आमंत्रित किया गया था। इसमें राष्ट्रीय स्तर की कंपनियों को शामिल नहीं किया गया। कंपनियों ने इसकी शिकायत उनके पास की थी। इसके बाद उन्होंने फाइल मंगा कर देखी। इसमें गड़बड़ी पाये जाने के बाद उन्होंने टेंडर रद्द करने का निर्देश दिया। आरसीएच में कीटनाशक की खरीद सहित अन्य टेंडरों की भी जांच की जा रही है। गड़बड़ी पाये जाने पर इन्हें भी रद्द किया जा सकता है।ड्ढr जानकारी के अनुसार अगस्त माह में दवाओं की खरीद का टेंडर फाइनल किया गया था। इसमें यह शिकाय मिली कि कतिपय अधिकारियों द्वारा खास आपूर्तिकताओं को फायदा पहुंचाया गया। यह भी सूचना मिली कि बगैर किसी आधार के तकनीकी रूप से अक्षम बता कर कई कंपनियों को टेंडर पेपर नहीं दिया गया। कई कंपनियों ने यह भी आरोप लगाया है कि टेंडर पेपर देने के लिए काफी कम समय दिया जाता है। इससे यह आशंका है कि टेंडर केवल दिखाने के लिए हो रहा है। कंपनियों ने आरसीएच अधिकारियों पर दो आपूर्तिकर्ताओं आर फोगला और कुांबिहारी को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाया था।ड्ढr टेंडर रद्द होने के बाद अब इस मामले में दोषी अधिकारियों की भी खोज शुरू हो गयी है। इन अधिकारियों पर विभागीय कार्रवाई की जा सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: खास आपूर्तिकर्ताओं को फायदा पहुंचाने का आरोप