अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाई के सीएम बनने से पावरफुल हुए राजाराम

जिस राजाराम सोरन को शिबू के सीएम बनने से पूर्व बहुत कम लोग जानते थे, आज उनके चारों ओर सरकारी अफसरों का जमावड़ा लग रहा है। राजाराम सोरन मुख्यमंत्री शिबू सोरन के बड़े भाई हैं। मंगलवार को आदित्यपुर पीएचइडी आइबी में पत्रकारों से बातचीत में राजाराम सोरन ने स्वयं इस बात को स्वीकार किया। उन्होंने कहा कि समय का खेल भी अनोखा होता है। जो सरकारी कर्मचारी उन्हें फटकने तक नहीं देते थे, आज वही उनके पास घेरा डाले रहते हैं। उन्होंने कहा कि शिबू को मैंने अपने घर से पांच रुपये देकर विदा किया था। वह भी घर में प्रतिदिन काटे जानेवाले मुट्ठी भर चावल को बेचकर। आज उसी पैसे से शिबू दिशोम गुरु बन चुके हैं। उन्होंने कहा कि शिबू सोरन शुरू से ही राजनीति में जाने की इच्छा रखते थे। राजाकाम ने बताया कि जब उनके पिता की हत्या महाजनों ने कर दी थी, तभी से उन्होंने अपने चारों छोटे भाइयों की देखभाल की। शिबू का जन्म शिवरात्रि के दिन होने के कारण ही उनका नाम शिवचरण रखा गया था। उन्होंने कहा कि हम पांचों भाइयों ने महाभारत की लड़ाई की तरह झारखंड की लड़ाई पांडव बनकर लड़ी। साथ ही उन्होंने आशा जतायी कि शिबू के नेतृत्व में झारखंड वासियों का सपना साकार होगा क्योंकि वह सोने की तरह आग में तपने के बाद इस दहलीज पर पहुंचा है। शिबू सोरन से जुड़ी एक खास बात बताते हुए राजाराम ने कहा कि बचपन में शिबू भृंगराज पक्षी को पालता था जो कि जंगल में रहता है। यह पक्षी दूसर पक्षियों की बोली के साथ मनुष्यों की बोली भी समझने की क्षमता रखता है। मनमोहन सरकार भ्रष्ट : आडवाणीकार्यालय प्रतिनिधि दुमका पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी ने कहा है कि भाजपा को सत्ता में आने का अवसर मिला तो हम देश को ईमानदार सरकार देंगे। मंगलवार को स्थानीय गांधी मैदान में आयोजित विजय संकल्प रैली को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि स्वराज आया तो सुराज भी आयेगा।ड्ढr रैली के मकसद की चर्चा करते हुए श्री आडवाणी ने कहा कि विजय का संकल्प किसी पार्टी या किसी व्यक्ित से नहीं जोड़कर भारत से जोड़ें तो देश की विजय होगी। भारत की एकता की विजय होगी। भारत के लोकतंत्र की विजय होगी। कांग्रेस सरकार की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा कि अब तक उन्होंने 14 प्रधानमंत्री देखे पर ऐसी अक्षम और भ्रष्ट सरकार कभी नहीं देखी। यह सरकार एक दिन भी चलने लायक नहीं है। जल्दी इस सरकार की छुट्टी होनी चाहिए।ड्ढr उन्होंने नौजवानों से अपील की कि वे अभी से यह पता करं कि मतदाता सूची में आपका नाम है कि नहीं। अगर नहीं है तो नाम जोड़वाये। अध्यक्ष पद से पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष पी.एन.सिंह ने कहा कि देश को श्री आडवाणी जसे सक्षम प्रधानमंत्री की जरुरत है। प्रतिपक्ष के नेता अजरुन मुंडा ने कहा कि यूपीए के नाम पर राजनीतिक भ्रष्टाचार का इतिहास रचने का काम हो रहा है। सांसद और झारखंड प्रभारी करुणा शुक्ला ने कहा कि भाजपा को आशीर्वाद दीजिए। जनता चाहती है कि आडवाणी देश की बागडोर संभाले। रैली को सांसद जयप्रकाश नारायण सिंह, पूर्व सांसद अभयकांत प्रसाद, सुनील सोरन, अशोक भगत, राज पालिवाल, ताला मरांडी (सभी विधायक) के साथ ही पार्टी के प्रदेश महामंत्री दिनेशानंद गोस्वामी, पूर्व मंत्री देवीधन बेसरा, भाजयुमो के प्रदेश अध्यक्ष अनंत ओझा ने भी सम्बोधित किया। रुक-रुक कर हो रही तेज बारिश के बावजूद आडवाणी को सुनने भारी संख्या में लोग गांधी मैदान में जुटे थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भाई के सीएम बनने से पावरफुल हुए राजाराम