DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रैगिंग के नाम पर डीएसपी के भाई को पीटा

पटना विश्वविद्यालय प्रशासन के लाख प्रयास के बावजूद रैगिंग का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। मंगलवार को पटना कॉलेज में रैगिंग देने से इंकार करने पर पटना में पदास्थपित एक डीएसपी के भाई तथा इतिहास विभाग के प्रथम वर्ष के छात्र अभिषेक की द्वितीय वर्ष के छात्रों ने जमकर धुनाई कर दी । डीएसपी के भाई के घायल होने के बाद पुलिस हरकत में आ गई और कॉलेज में पहुंचकर इस घटना में शामिल छात्रों की छानबीन होने लगी। रैगिंग में शामिल किसी भी छात्र को पकड़ा नहीं जा सका। पीरबहोर थाना अध्यक्ष एस.ए. हाशमी ने बताया कि अभिषेक ने दर्जन भर अज्ञात छात्रों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करा दी है। पुलिस दोषी छात्रों की सरगर्मी से तलाश रही है। झ्रदरअसल पटना कॉलेज में क्लास समाप्त होने के बाद द्वितीय वर्ष के लगभग दर्जनभर छात्र प्रथम वर्ष के क्लास में घुस गए। वहां उन्होंने एक-एक कर छात्रों की रैगिंग करनी शुरू कर दी। इसमें अभिषेक ने रैगिंग देने से इंकार कर दिया। इसी बात पर द्वितीय वर्ष के छात्र भड़क गए और हंगामा करना शुरू कर दिया। कालेज में अचानक हंगामा होने से वहां अफरातफरी मच गई। सूचना मिलने के बाद प्राचार्य डा. रणविजय कुमार दल-बल के साथ विभाग में पहुंचे। उनको देखते ही द्वितीय वर्ष के छात्र वहां से भागने लगे। सीनियरों को भागता देख प्रथम वर्ष के छात्रों में जोश आ गया। ऐसा होता देख द्वितीय वर्ष के छात्रों ने मिंटो व जक्सन हॉस्टल से अपने साथियों को बुला लिया। प्राचार्य व शिक्षकों के कार्यालय में जाते ही द्वितीय वर्ष के छात्र प्रथम वर्ष के छात्रों पर टूट पड़े। मारपीट में अभिषेक को गंभीर चोटें आयीं। पुलिस का कहना है कि अगर कॉलेज प्रशासन चौकन्ना रहता तो निश्चित तौर पर इस घटना को टाला जा सकता था। गौरतलब है कि इससे पूर्व 22 अगस्त को भी एनआईटी में भी रैगिंग की घटना हुई थी जिसमें एक छात्र गंभीर रूप से घायल हुआ था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रैगिंग के नाम पर डीएसपी के भाई को पीटा