DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फौचा में महिलाओं कचचो मिलेगा स्थायी कचमीशन

सेना के तीनों प्रमुखों की समिति ने महिलाओं को फौज में स्थायी कमीशन देने की सिफारिश रक्षा मंत्री एके एंटनी को भेज दी है। पूरी संभावना है कि एक सप्ताह के भीतर यह ऐतिहासिक फैसला हो जाएगा। सैन्य प्रमुखों की समिति ने सशस्त्र बलों में शिक्षा और न्यायिक शाखा में महिलाओं को पुरुषों की तरह स्थाई कमिशन देने की सिफारिश की है लेकिन उन्हें लड़ाकू भूमिका में नहीं रखा जाएगा। रक्षा मंत्रालय के एक उच्च पदस्थ अधिकारी ने पुष्टि की कि सैन्य समिति ने अपनी सिफारिश रक्षा मंत्री को भेज दी है और ‘यह फैसला बहुत जल्दी ले लिया जाएगा।’ड्ढr ड्ढr अधिकारी ने संकेत दिया कि एंटनी इस फैसले पर अपनी मुहर एक सप्ताह के भीतर लगा देंगे। अभी तक महिलाओं को सशस्त्र सेनाओं में अस्थाई तौर पर ही लिया जाता है और उनकी नौकरी 15 साल से कम होती है। महिला अधिकारियों को लेफ्टीनेंट कर्नल रैंक से उपर का दर्जा नहीं मिल पाता। इस समय सशस्त्र बलों में 18महिलाएं हैं। इनमें 1014 महिला अधिकारी सेना में, 73 वायु सेना में और 236 महिलाएं नौसेना में हैं। रक्षा सूत्रों ने कहा कि महिलाओं को स्थाई कमिशन देने के मुद्दे को कैबिनेट के पास ले जाने की आवश्यकता नहीं है और रक्षा मंत्री के स्तर पर यह फैसला ले लिया जाएगा जो एक साल से इस मुद्दे को आगे बढ़ाते आ रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: फौचा में महिलाओं कचचो मिलेगा स्थायी कचमीशन