अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बारूदी सुरंग विस्फोट, 5 जवान शहीद

दूसरे चरण के चुनाव में मुजफ्फरपुर के देवरिया कोठी इलाके में बारूदी सुरंग विस्फोट में पांच जवान शहीद हो गये। गनीमत यही रही कि अन्य जगहों से छिटपुट घटनाओं के अलावा हिंसा की कोई बड़ी घटना नहीं हुई। सूबे की 13 लोकसभा सीटों के लिए गुरुवार को हुए चुनाव में 44 फीसदी लोगों ने मताधिकार का प्रयोग किया। जबकि देश भर में 140 सीटों पर 55 फीसदी वोटिंग हुई। गर्मी के तीखे तेवर से वोटरों में कोई उत्साह नहीं देखने को मिला। सूबे के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में अपेक्षाकृत अधिक वोट पड़े। सर्वाधिक 52 प्रतिशत वोटिंग मुजफ्फरपुर में जबकि सबसे कम 42 प्रतिशत मतदान दरभंगा, मधुबनी और उजियारपुर में हुआ।ड्ढr ड्ढr वैशाली लोकसभा क्षेत्र के बरुराज विधानसभा क्षेत्र के बूथ नंबर 218 पर इवीएम तोड़े जाने के मामले में जदयू उम्मीदवार मुन्ना शुक्ला की गिरफ्तारी का आदेश दिया गया है। उधर साहेबगंज विधानसभा क्षेत्र के धरफरी हाईस्कूल से वोटिंग कराकर लौट रहे जवानों को नक्सलियों ने निशाना बनाया। देवरिया थाना क्षेत्र के कपरूरी नहर पुल के निकट हुए बारूदी सुरंग विस्फोट में गुरुवार की रात पांच जवान मौके पर ही शहीद हो गये। एडीाी मुख्यालय नीलमणि ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि शहीदों में दारोगा अमरीक प्रसाद, एक जिला पुलिस के जवान, दो होमगार्ड के जवान और सेक्टर मजिस्ट्रेट सुनील कुमार शामिल हैं। जवान जिस बोलेरो पर सवार थे, उसका चालक गंभीर रूप से जख्मी है। माओवादियों ने पुलिस के हथियार भी लूट लिये। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुधीर कुमार राकेश ने मतदान शांतिपूर्ण और निष्पक्ष तरीके से संपन्न करा लिए जाने का दावा किया। इस दौरान 287 गिरफ्तारियां हुईं जिसमें घोड़ासहन के विधायक लक्ष्मीनारायण यादव भी शामिल हैं। 31 जगहों पर इवीएम बदली गयी और 47 स्थानों पर वोट बहिष्कार की सूचना है। वैशाली के पारू विधानसभा क्षेत्र में भीषण आग के कारण दो बूथों पर से इवीएम को हटा लिया गया। वैशाली में चार बूथों पर पुनर्मतदान होने की संभावना है।ड्ढr ड्ढr उधर हाजीपुर औद्योगिक थाने के सुल्तानपुर में पुलिस और वोटरों के बीच झड़प हुई। ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस वाले एक प्रत्याशी के पक्ष में वोट डालने के लिए बाध्य कर रहे थे। वहीं एसपी पारसनाथ ने बताया कि पुलिस ने जब बोगस मतदान रोकने का प्रयास किया तो ग्रामीणों ने रोड़ेबाजी व गोलीबारी शुरू कर दी। पुलिस ने आत्मरक्षार्थ हवा में तीन चक्र गोलियां चलाईं। इस दौरान एक टीवी चैनल का पत्रकार भी घायल हो गया और उनका वाहन क्षतिग्रस्त हो गया व चालक का सिर फट गया। समस्तीपुर (सु.) व उाियारपुर में कहीं-कहीं ईवीएम में गड़बड़ी तो कहीं छिटपुट घटनाओं को छोड़कर मतदान शांतिपूर्ण रहा। शिवहर लोकसभा क्षेत्र के पताही में नक्सलियों ने बारूदी सुरंग विस्फोट किया। इसमें पताही थाने की पेट्रोलिंग पार्टी बाल-बाल बच गयी। वाल्मीकिनगर, प. चम्पारण और मधुबनी में मतदान शांतिपूर्वक संपन्न हुआ। झंझारपुर लोकसभा क्षेत्र में महिला मतदाताओं में उत्साह देखा गया। वाल्मीकिनगर में प्रचंड गर्मी एवं तेज पछिया हवा की परवाह किये बगैर उत्साहित मतदाताओं ने वोट डाले। दरभंगा व वैशाली में मतदान आमतौर पर शांतिपूर्ण रहा। मतदान शुरू होते ही मुजफ्फरपुर के कई प्रखंडों में इवीएम खराब होने की लगातार शिकायत मिलती रही।ड्ढr ड्ढr गायघाट प्रखंड के कमरथु गांव के बूथ पर बम विस्फोट किया गया। मीनापुर प्रखंड के एक बूथ पर एक दर्जन बम विस्फोट हुए। कुढ़नी के मतदान केन्द्र संख्या 125 पर जदयू प्रत्याशी का चुनाव चिह्न् इवीएम पर न रहने से मतदाताओं ने बवाल मचाया। दूसर चरण में कुल 18उम्मीदवार उम्मीदवारों की किस्मत इवीएम में कैद हो गयी जिनमें महिलाएं भी हैं। प्रमुख उम्मीदवारों में हाजीपुर से लोजपा अध्यक्ष रामविलास पासवान, रामसुंदर दास, रघुवंश प्रसाद सिंह, डॉ.शकील अहमद, हुकुमदेव नारायण तथा कैप्टेन जयनाराण निषाद और जार्ज फर्नाडीस निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनावी मैदान में हैं जिनका भाग्य गुरुवार को ईवीएम में बंद हो गया।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बारूदी सुरंग विस्फोट, 5 जवान शहीद