DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दक्षता के अभाव में पिछड़ सकते हैं झारखंडी : शाही

मंत्री भानू प्रताप शाही ने कहा कि युवा नीति के आभाव में देश के सिर्फ पांच फीसदी युवा स्किल्ड (दक्ष) हैं। खनिज के कारण झारखंड विश्व का अग्रणी राज्य बनने की ओर अग्रसर है, लेकिन कुशलता के अभाव में झारखंडी पिछड़ सकते हैं। स्कूल में ही अपनी पढ़ाई छोड़ देनेवालों के लिए वोकेशनल कोर्स शुरू करने पर गंभीर चिंतन की जरूरत है। वह शुक्रवार को एक्सआइएसएस सभाकक्ष में आयोजित दो दिनी पूर्वी क्षेत्र इंटरफेस बैठक के उद्घाटन सत्र में बोल रहे थे।ड्ढr इससे पूर्व उन्होंने दीप जलाकर बैठक का उद्घाटन किया। एफवीटीआरएस (फंक्शनल वोकेशनल ट्रेनिंग एंड रिसर्च सोसाइटी, बेंगलुरु) के प्रबंधक एमएल सत्यन ने कहा कि देश के 60 फीसदी बच्चे दसवीं से पूर्व पढ़ाई छोड़ देते हैं। वीटीसी लचरागढ़ के ब्रदर सुशील, चर्चेज आगीलरी फॉर सोशल एक्शन (कासा) अनीता हेमरोम और कीर्ति के निदेशक दुष्कर बारीक ने भी विचार रखे। बैठक में आरआर मेहता, श्रीकांत, राहुल मेहता सहित कई राज्यों के प्रतिनिधि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दक्षता के अभाव में पिछड़ सकते हैं झारखंडी : शाही