द. अफ्रीका में भी चुनावी गिरफ्त में आईपीएल - दक्षिण अफ्रीका में भी चुनावी गिरफ्त में आईपीएल-2 DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दक्षिण अफ्रीका में भी चुनावी गिरफ्त में आईपीएल-2

आईपीएल-2 के आयोजन पर शुरुआत से ही चुनाव का साया मंडराता रहा है। भारत में आम चुनाव के चलते इसे दक्षिण अफ्रीका ले जाया गया। लेकिन यहां भी आम चुनाव का भूत इसका पीछा नहीं छोड़ रहा, जिसने इसकी चमक को फीका कर दिया है। आलम यह है कि अभी भी पूरे-पूरे पेज के विज्ञापन देने के बावजूद आईपीएल-2 को स्थानीय मीडिया में कम तवज्जो दिया जा रहा है। दक्षिण में बड़े ही धूधाम से शुरू हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के दूसरे संस्करण की चकाचौंध अब फीकी पड़ गई है। इसकी वजह दक्षिण अफ्रीका में बुधवार को हुए आम चुनाव हैं जिसकी चर्चा कुछ इस कदर है कि आईपीएल की पूरी खुमारी इसमें दब गई है। यहां के ज्यादातर समाचार पत्र आईपीएल से जुड़ी खबरों को बहुत कम जगह दे रहे हैं। वह भी मैच से ज्यादा क्रिकेट के मैदान से बाहर की खबरों को दक्षिण अफ्रीकी अखबार तवज्जो दे रहे हैं। अखबारों में आईपीएल के मैच और खिलाड़ियों से कहीं ज्यादा बॉलीवुड के सितारों को प्रमुखता दी जा रही है। बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान को भी महज कुछ सेंटीमीटर की जगह अखबारों में मिल पा रही है। यह सब चुनाव की वजह से हो रहा है। चुनाव परिणामों की घोषणा गुरुवार से शुरू हुई तो खेल पृष्ठों पर भी इससे जुड़ी खबरों ने जगह ले ली। इसके साथ ही आईपीएल के लिए अखबारों में जगह और भी सीमित हो गई। आईपीएल आयोजक अभी भी इस टूर्नामेंट के प्रचार पर खूब जोर दे रहे हैं। अभी भी अखबारों में पूरे एक पृष्ठ का विज्ञापन दिया जा रहा है। विशेषज्ञों का मानना है कि पहले आईपीएल के विज्ञापन आकर्षक जरूर लग रहे थे लेकिन अब उन्हीं विज्ञापनों को दोहराया जाना उबाऊ हो गया है। एक विज्ञापन कंपनी के कार्यकारी का कहना है, ‘‘आईपीएल के विज्ञापनों के बजट से ज्यादा इनको रचनात्मक बनाने की जरूरत है।’’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: द. अफ्रीका में भी चुनावी गिरफ्त में आईपीएल