अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ईरान के खिलाफ आएगा प्रस्ताव

ईरान द्वारा अपना परमाणु कार्यक्रम जारी रखे जान के मद्देनजर दुनिया की प्रमुख शक्तियांे में उसके खिलाफ संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में प्रस्ताव लाने पर सहमत बन गई है। ब्रिटिश विदशमंत्री डविड मिलिबैंड न संवाददाताओं का बताया कि प्रस्ताव मं ईरान द्वारा यूरनियम संवर्धन रोकन की सुरक्षा परिषद की मांग नहीं मानन पर उसक खिलाफ जारी मौजूदा प्रतिबंध जारी रखन का प्रावधान है। व्हाइट हाउस की प्रवक्ता डाना परिनो न शुक्रवार को कहा कि सुरक्षा परिषद ईरान क परमाणु संवर्धन रोकन और आईएईए क निरीक्षकों क प्रश्नों क उत्तर दन स इंकार करन की अनदखी नहीं कर सकती है। समाचार एजंसी डीपीए क अनुसार प्रस्ताव मं ईरान पर कोई नया प्रतिबंध नहीं लगाया गया है जिसकी मांग अमरिका, फ्रांस और ब्रिटन इस सप्ताह कर रह थे। मिलिबैंड न बताया कि भावी उपायों क लिए व्यापक विचार-विमर्श अभी भी जारी है। गौरतलब है कि 15 सदस्यीय सुरक्षा परिषद न ईरान पर इस समय तीन प्रतिबंध लगाए हैं। संयुक्त राष्ट्र की परमाणु निगरानी संस्था अंतराष्ट्रीय परमाणु ऊरा एजंसी (आईएईए) न पिछल हफ्त कहा था कि ईरान न परमाणु संवर्धन की सुविधा बढ़ा ली है और वह एजंसी क निरीक्षकों क साथ पूरा सहयोग नहीं कर रहा है। इसक पहल प्रस्ताव पर सहमति क लिए सुरक्षा परिषद के पांच स्थायी सदस्यों अमरिका, चीन, रूस, फ्रांस, ब्रिटन व जर्मनी क मंत्रियों की एक तय बैठक रद्द हो गई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ईरान के खिलाफ आएगा प्रस्ताव