अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देश में हर वर्ष 30 लाख नए कैंसर मरीज : राज्यपाल

राज्यपाल आर.एल.भाटिया ने कहा है कि देश में हर वर्ष 30 लाख नए कैंसर मरीज बढ़ रहे हैं। इन मरीजों में 60 फीसदी एडवांस स्टेज में इलाज के लिए जाते हैं। गंभीर और लाइलाज हो चुके कैंसर रोगियों की देखभाल आवश्यक है। महावीर मंदिर द्वारा हाजीपुर में लाइलाज हो चुके कैंसर रोगियों की देखभाल और इलाज का नया केन्द्र ‘जीवन संध्या’ का निर्माण कर सराहनीय कार्य किया जा रहा है। इस कार्य में स्वयंसेवी संगठनों की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। उन्होंने कहा कि कैंसर की आरम्भिक अवस्था में पहचान हो जाने से इलाज करना आसान है। राज्यपाल शनिवार को महावीर कैंसर संस्थान द्वारा आयोजित पैलिएटिव केयर के दो दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार ‘आईएपीसी-सीएमई 2008’ का उद्घाटन कर रहे थे। उन्होंने सेमिनार के लिए तैयार की गयी स्मारिका का भी विमोचन किया। इस मौके पर महावीर मंदिर न्यास समिति के सचिव व धार्मिक न्यास परिसद के प्रशासक आचार्य किशोर कुणाल ने ‘जीवन संध्या’ आरम्भ न होने का ठीकरा राज्य के नौकरशाही पर फोड़ा।ड्ढr ड्ढr सम विकास योजना के तहत दी गयी राशि नौकरशाही के चंगुल में फंसी है। दीगर बात है कि कैबिनेट ने इसकी स्वीकृति दे दी है। पैसा नहीं मिलने पर भी महावीर मंदिर द्वारा इसके निर्माण का संकल्प दोहराया। उद्घाटन समारोह को न्यायमूर्ति प्रमशंकर सहाय और न्यायमूर्ति उदय सिन्हा ने भी संबोधित किया। इसके पूर्व सेमिनार के वैज्ञानिक सत्र का उद्घाटन कैंसर रोग विशेषज्ञ डा.ए.डी.सिंह ने किया। आईएपीसी के अध्यक्ष डा.सुखदेव नायक ने कहा कि मरीजों का मनोवैज्ञानिक, सामाजिक और अध्यात्मिक मदद की जाए। महावीर कैंसर संस्थान के निदेशक डा.जितेन्द्र सिंह ने कहा कि कैंसर के गंभीर मरीजों की देखरख में जितनी भूमिका डॉक्टर की होती है उससे अधिक परिवार और समाज की है। वैज्ञानिक सत्र को इंग्लैण्ड से आए अनिवासी बिहारी डा.एन.के.श्रीवास्तव के अलावा डा.लिंगे गोडे और मुंगेर के स्वामी निर्मलानंद ने भी संबोधित किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: देश में हर वर्ष 30 लाख नए कैंसर मरीज : राज्यपाल