अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दानापुर नप की बैठक हंगामेदार

गहमागहमी व हंगामे के बीच दानापुर नगर परिषद की मासिक बोर्ड की बैठक रशम देवी की अध्यक्षता में शनिवार को संपन्न हुई। इसकी जानकारी उपाध्यक्ष राज किशोर प्रसाद ने दी। बैठक में वार्षिक आम योजना की प्रशासनिक स्वीकृति दी गई। विकास कार्य अब निबंधित संवेदक द्वारा करवाने का निर्णय लिया गया। साथ ही परिषद के वार्ड संख्या 40 में हरदासपुर को शामिल किया गया। दुर्गापूजा के अवसर पर 40 अतिरिक्त सफाई कर्मी से सफाई कराई जाएगी।ड्ढr ड्ढr सड़क के चौड़ीकरण के लिए भूमि अधिग्रहण किया जाएगा। इसके लिए प्रस्ताव सरकार को भेजा जाएगा। वही नगर परिषद के कर्मचारियों के छठे वेतनमान पर भी चर्चा की गई। वही वार्ड पार्षद सुरन्द्र प्रसाद चौरसिया व केदार सिंह यादव ने आरोप लगाया कि कार्यपालक पदाधिकारी डी.के. झा व उपाध्यक्ष राज किशोर यादव की मिलीभगत से कार्यवाही पुस्तिका उपाध्यक्ष अपने घर पर ले जाते हैं और हमेशा कार्रवाही पुस्तिका सदन में नहीं लिखी जाती है। बैठक में किसी तरह का स्पष्ट निर्णय नहीं हुआ और बैठक हंगामे व शोर के कारण जल्द ही समाप्त हो गयी। परिषद के सभी निबंधित संवेदक उपाध्यक्ष के करीबी व रिश्तेदार बताये जाते हैं। जबकि एक तत्कालीन कार्यपालक पदाधिकारी का करीबी बताया जाता है। साथ ही कई अनुबंध पर बहाल कर्मियों द्वारा बिना कार्य किये ही वेतन उठाया जा रहा है। उन्होंने जिलाधिकारी को पत्र भेजकर जांच कराने की मांग की है। वही परिषद के सफाई कर्मियों ने बकाया वेतन और छठे वेतनमान को लेकर जमकर हंगामा व नारबाजी की । साथ ही कार्यपालक पदाधिकारी का कर्मियों ने घेराव किया। उपाध्यक्ष व कार्यपालक पदाधिकारी के खिलाफ नारबाजी की गई। बैठक में उपाध्यक्ष राज किशोर यादव, कार्यपालक पदाधिकारी डी.के. झा समेत वार्ड पार्षद मौजूद थे। वही कार्यपालक पदाधिकारी डी.के. झा ने कहा कि बोर्ड का जो फैसला होगा उसी पर कार्रवाई की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दानापुर नप की बैठक हंगामेदार