अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अलकायदा हुआ है और मजबूत : सर्वे

दुनिया भर के यादातर लोगों का मानना है कि अमेरिका के नेतृत्व मंे आतंकवाद के खिलाफ अभियान से आतंकवादी संगठन अलकायदा कमजोर होने के बजाय मजबूत हुआ है। बीबीसी वर्ल्ड सर्विस के सर्वेक्षण के अनुसार 23 में से 22 देशों के लोगों का मानना है कि अमेरिका में 11 सितम्बर 2001 के आतंकवादी हमलों के बाद अलकायदा के खिलाफ शुरू किए गए अभियान से वह कमजोर नहीं हुआ है। सर्वेक्षण के अनुसार इस मुहिम में किसी की स्पष्ट जीत नहीं हुई है। सर्वेक्षण में मदद करने वाले प्रोग्राम आन इंटरनेशनल पोलिसी एटीट्यूड्स के निदेशक स्टीवन कुल के अनुसार अमेरिका की असीमित सैन्य ताकत के बावजूद अलकायदा के खिलाफ उसके अभियान में उसके हाथ कुछ नहीं लगा है, बल्कि यादातर लोगों का मानना है कि इससे अलकायदा और मजबूत हुआ है। केन्या एक मात्र ऐसा देश है जहां के लोग मानते हैं कि आतंकवाद के खिलाफ अभियान से अल कायदा कमजोर हुआ है। अमेरिका में केवल 34 प्रतिशत लोगों का मानना है कि अल कायदा कमजोर हुआ है, 26 प्रतिशत लोगों का मानना है कि इस अभियान का अलकायदा पर कोई असर नहीं हुआ है जबकि 33 प्रतिशत का मानना है कि इससे आतंकवादी मजबूत हुए हैं। यादातर अमेरिकीयों का मानना है कि इस अभियान में न तो अमेरिका और न ही अलकायदा कोई नहीं जीता है। फ्रांस, मेक्िसको, इटली, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन में 40 प्रतिशत से अधिक लोग मानते हैं कि आतंकवाद के खिलाफ अभियान से अल कायदा मजबूत हुआ है। यादातर लोगों का अल कायदा के बारे में नकारात्मक दृष्टिकोण है लेकिन मिस्र और पाकिस्तान में उसके प्रति मिश्रित प्रतिक्रिया है। यह सर्वेक्षण 23 देशों के लगभग 24 हजार लोगों पर किया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अलकायदा हुआ है और मजबूत : सर्वे