गांगुली ने छोड़ी जिद, आईपीएल को कहा अलविदा - गांगुली ने छोड़ी जिद, आईपीएल को कहा अलविदा DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गांगुली ने छोड़ी जिद, आईपीएल को कहा अलविदा

गांगुली ने छोड़ी जिद, आईपीएल को कहा अलविदा

अपनी हठधर्मिता के कारण अक्सर सुर्खियों में रहने वाले रॉयल बंगाल टाइगर सौरभ गांगुली ने आखिरकार मैदान में बल्ला थामे रहने का बालहठ छोड़ते हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आगामी सत्र में नहीं खेलने का फैसला कर लिया है।
 
प्राप्त जानकारी के अनुसार पिछले सत्र में सहारा पुणे वॉरियर्स के कप्तान के तौर पर आईपीएल-5 में उतरे गांगुली और टीम प्रबंधन के बीच शनिवार देर रात हुई बातचीत में दोनों तरफ से इस मसले पर सहमति बन गई कि गांगुली इस सत्र में नहीं खेलेंगे। इसके साथ गांगुली के लगभग 22 वर्ष के पेशेवर क्रिकेट करियर का सूर्य अस्त हो चला है।
 
टीम इंडिया और आईपीएल फ्रेंचाइजी कोलकाता नाइटराइडर्स के कप्तान रह चुके गांगुली को 2011 में कोई खरीदार नहीं मिल पाने के कारण काफी लानत मलामत झेलनी पड़ी थी लेकिन फिर आखिरी क्षणों में सहारा ने उन्हें सहारा दिया। इस टीम के साथ भी गांगुली दो सत्रों में कुछ खास नहीं कर सके।
 
आईपीएल-5 में ही ऐसी खबरें थी कि वॉरियर्स टीम प्रबंधन गांगुली से पीछा छुड़ाना चाहता है। इसके लिए उन्हें मेंटर की भूमिका भी दी गई लेकिन वह खिलाड़ी के तौर मैदान में उतरने पर अड़े रहे। आगामी सत्र के लिए सभी फ्रेंचाइजी को 31 अक्टूबर तक अपने खिलाड़ियों की सूची आईपीएल संचालकों को देनी है। माना जा रहा है कि इसी के मद्देनजर यह अहम फैसला किया गया है।

2008 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने के बाद गांगुली अक्सर कमेंट्री बॉक्स में और समाचार चैनलों पर विशेषज्ञ के रूप में दिखाई देते थे लेकिन आईपीएल का मौसम आते ही वह खिलाड़ियों के बाने में आ जाते थे। अब संभवत वह कमेंट्री बॉक्स में ही नजर आएंगे या फिर आईपीएल में बतौर मेंटर सहारा के डगआउट में दिख सकते हैं।
 
हालांकि इस दौरान गांगुली कई बार कहा कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से उन्हें समय पूर्व हटना पड़ा और वह एक दो साल तक खेल सकते थे लेकिन अपने दावे को पुष्ट करने के लिए गांगुली के पास कोई प्रदर्शन नहीं था। आईपीएल के अलावा उन्होंने बंगाल की रणजी टीम में भी हाथ आजमाए।
 
गांगुली ने फिलहाल रणजी टीम से भी नाम वापस ले लिया है लेकिन बंगाल क्रिकेट संघ से जुड़े सूत्रों को पूरा भरोसा है कि गांगुली इस सत्र के कुछ मैचों में टीम ओर से खेलने जरूर आएंगे। फिलहाल उनकी जगह मनोज तिवारी को बंगाल रणजी टीम में शामिल कर लिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गांगुली ने छोड़ी जिद, आईपीएल को कहा अलविदा