class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिजली आवंटन व वितरण में इतना अंतर क्यों:राजद

बिजली बोर्ड की सफाई के बावजूद राजद इस बात पर अड़ा हुआ है कि राज्य के लिए आवंटित बिजली बेची जा रही है। पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव श्याम राक और प्रदेश महासचिव निहोरा प्रसाद यादव ने बुधवार को बोर्ड से पूछा कि बिजली आवंटन और वितरण में इतना अंतर क्यों है। राजद ने कहा कि 2सितम्बर को सुबह 8. 23 बजे केंद्रीय प्रक्षेत्र से 1035 मेगावाट बिजली दी गई। मगर उपभोक्ताओं के बीच सिर्फ 773 मेगावाट बिजली का वितरण किया गया।ड्ढr ड्ढr राजद ने पूछा कि इस अवधि की 262 मेगावाट बिजली कहां गई? राजद ने उसी दिन के कई और उदाहरण दिए, जिनमें आवंटन और वितरण के बीच फर्क दिखाए गए हैं। दोनों नेताओं ने कहा कि राजद ने इस मुद्दे को उठाया तो बिजली की हालत थोड़ी सुधरी। राजद ने बोर्ड के इस दावे को भी खारिा किया कि तकनीकी गड़बड़ी के कारण कभी-कभी कम बिजली ली जाती है। राजद ने कहा कि तकनीकी गड़बड़ी कुछ समय के लिए हो सकती है। वह गड़बड़ी तुरंत अब कैसे ठीक हो रही है। अब कैसे आवंटन के अनुसार बिजली की आपूर्ति हो रही है। राजद ने कहा कि सरकोर अपनी गलतियों को छिपाने के लिए अपराध कर रही है। दक्षिण बिहार में सूखा है। किसान तबाह हो रहे हैं। राज्य सरकार इस अपराध के लिए जिम्मेवार है। राजद को बिजली पर बोलने का हक नहीं : जदयूड्ढr पटना (हि.ब्यू.)। जदयू ने कहा कि राजद को बिजली पर बोलने का कोई हक नहीं है। केंद्रीय प्रक्षेत्र से बिजली आवंटन के मामले में राज्य के साथ हमेशा भेदभाव होता रहा है। पार्टी के प्रवक्ता विजय कुमार चौधरी ने कहा कि राजद शासनकाल में पूर राज्य में बिजली की व्यवस्था चौपट हो गई थी।ड्ढr इसे राज्य सरकार सुधार रही है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय प्रक्षेत्र से आजतक बिहार को मांग के अनुरूप बिजली नहीं मिली। पड़ोसी राज्य झारखंड, पश्चिम बंगाल और उड़ीस को मांग के अनुरूप ही नहीं,ड्ढr कभी-कभी मांग से भी अधिक बिजली दी जाती है जबकि बिहार को मांग की तुलना में अधिकतम 60 फीसदी बिजली दी जाती है। पीक आवर में बोर्ड को महंगी दर पर बिजली खरीदनी पड़ती है।ड्ढr राज्य के बार-बार के आग्रह के बाद भी आवंटन में सुधार नहीं हो रहा है। जदयू प्रवक्ता ने कहा कि राजद को चाहिए कि गलतबयानी छोड़कर केंद्रीय क्षेत्र पर बिहार को अधिक बिजली देने के लिएड्ढr दबाव बनाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बिजली आवंटन व वितरण में इतना अंतर क्यों:राजद