DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

और आ गयी जेल के दिनों की याद ताजा की

महिला औद्योगिक विद्यालय पहुंचने पर शिबू सोरन को अपनी जेल यात्रा याद आ गयी। चिरूडीह कांड के अभियुक्त के रूप में यहां शिबू सोरन एक महीना तेरह दिन का समय काट चुके हैं। उस समय शिबू सोरन एक कैदी के रूप में यहां रहते थे। आज वे राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में पहुंचे थे। शिबू सोरन जिस कमर में कैदी के रूप में रहते थे। वहां विद्यालय प्रबंधन ने वर्तमान में कम्प्यूटर रूम बनाया है। जिसका उद्घाटन भी शिबू सोरन ने फीता काटकर किया। कमर का नाम दिशोम गुरु रख दिया गया है। जसे ही मुख्यमंत्री पहुंचे की वहां अध्ययनरत महिलाएं एवं बच्चियों ने कांसे के वर्तन से उनका पांव पखारा। कमर के अंदर जाते ही शिबू सोरन उसे निहारने लगे। बरबस ही बीते दिनों की याद आ गयी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: और आ गयी जेल के दिनों की याद ताजा की