DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकारी अधिकारी बाढ़ पीड़ितों संग ईद मनाएंगे

सरकारी अधिकारी भी इस बार बाढ़पीड़ितों के साथ मिलकर ईद मनाएंगे। सहरसा के पटेल मैदान स्थित शिविर में तो ईद की खुशी में मुख्यमंत्री भी शामिल हो रहे हैं। ईद की तैयारी इन शिविरों में रहने वाले मुसलमान ही नहीं हिन्दू भी कर रहे हैं। पूड़ी, सेवई और आलूदम बनाने की तैयारी मधेपुरा के सिंघेश्वरस्थान के साथ-साथ सहरसा के मेगा शिविर में भी है। ईद आने की खुशी का पता दूर से ही चल जाता है। मसूरी टोला से शिविर में पहुंचे बालक इरफान और मजहर तो अपने नये कपड़े देख-देख कर इतरा रहे हैं और शिविर संचालक नवल किशोर यादव से इस बात का वादा भी लेना चाहते हैं कि ईद में उन्हें घूमने की पूरी छूट मिलेगी।ड्ढr ड्ढr सिंघेश्वरस्थान स्थित मेगा शिविर में 82 मुस्लिम परिवार रह रहे हैं। इनके लिए नये कपड़े, टोपी और इत्र की व्यवस्था सरकार की ओर से की गई है। मात्र यही नहीं शिविर के पास के मेला मैदान में उनके लिए सामूहिक नमाज की व्यवस्था की गई है। एक मौलवी साहब को भी नमाज पढ़ाने के लिए बुला लिया गया है। ईद को मनाने में कोई कसर नहीं रह जाए, इसके लिए शिविर में रहने वाले 12 लोगों की एक कमिटी भी बना दी गई है। मधेपुरा के डीएम अतीश चंद्रा बताते हैं कि कपड़े शिविर में रहने वाले हर आदमी को दिए जा रहे हैं। आखिर मुसलमान भाई ईद मनाएंगे तो हिन्दू भाइयों को दशहरा भी तो मनाना है।ड्ढr ड्ढr इसी जिले के गम्हरिया स्थित राहत शिविर में मुसलमान भाइयों के नमाज पढ़ने की व्यवस्था शिविर के पास के ही एक मसिद में की गई है। यहां लोगों की मांग पर सेवई और पूड़ी के अलावा बुनिया भी बनेगा। सहरसा के मेगा शिविर में भी रहने वाले चालीस मुसलमान परिवारों के लिए न केवल नमाज अदा करने की व्यवस्था की गई है बल्कि शानदार भोजन की भी तैयारी की गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सरकारी अधिकारी बाढ़ पीड़ितों संग ईद मनाएंगे