अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डील के पीछे डील की सरकार ने : करात

माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) महासचिव प्रकाश करात ने कहा है कि अंतिम सांसें गिन रहे अमेरिका के परमाणु उद्योग को बचाने के लिए संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार ने उससे 70 अरब डालर मूल्य की ऊर्जा खरीदने का वादा किया है। राजधानी में संवाददाताओं से चर्चा करते हुए करात ने गुरुवार को कहा, ‘‘अमेरिका का परमाणु उद्योग दम तोड़ रहा है। पिछले 30 सालों से परमाणु ऊर्जा खरीदने के संबंध में उसे कोई नया ठेका नहीं मिला है। ऐसे में भारत सरकार अमेरिका से 10 हजार मेगावाट ऊर्जा खरीदने की तैयारी कर रही है।’’ अपने आरोपों के संदर्भ में उन्होंने एक पत्र का उेख किया, जो विदेश सचिव शिवशंकर मेनन ने अमेरिका के उप विदेश मंत्री विलियम बर्न्‍स को पिछले 10 सितम्बर को लिखा है। करात ने मीडिया को इस पत्र की प्रतियां भी बांटी। पत्र में लिखा गया है, ‘‘भारत सरकार की यह मंशा है कि वह अमेरिका के परमाणु ऊर्जा केंद्रों से बातचीत कर इस क्षेत्र में एक दूसरे के सहयोग को बढ़ावा देने के लिए समझौता करे। इसके लिए सरकार ने दो योजनाओं को मंजूरी दी है। इससे भारत 10 हजार मेगावाट ऊर्जा का उत्पादन कर सकेगा।’’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: डील के पीछे डील की सरकार ने : करात