अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुणाल की हत्या के लिए सुपारी

बिहार राज्य धार्मिक न्यास बोर्ड के अध्यक्ष किशोर कुणाल की हत्या की सुपारी दी गई है। एक अपराधी ने ही कुणाल को एसएमएस भेजकर यह जानकारी देते हुए उन्हें सावधान किया है। पहले एसएमएस भेजने वाले अपराधी को ही कुणाल के पीछे लगाया गया था। एसएमएस में कहा गया है कि ‘मुझे आपके पीछे लगाया गया था। मैंने आपका पीछा छोड़ दिया तो आज दूसर आदमी को आपके पीछे लगाए हुए हैं और मेरी जान के भी पीछे पड़ गये है।’ न्यास बोर्ड के अध्यक्ष को यह मैसेज बीती 17 मार्च को ही आया था पर तब उन्होंने इसे गंभीरता से नहीं लिया।ड्ढr ड्ढr पिछले कुछ दिनों से जब उन्हें कुछ खतर का अहसास हुआ तो उन्होंने इस मामले की लिखित जानकारी तीन दिन पूर्व स्पेशल ब्रांच (सीआईडी) के आईजी पीके ठाकुर को दी। इस संदर्भ में पूछे जाने पर आईजी ने बताया कि सीनियर एसपी अमित कुमार मामले की जांच कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि दो-तीन- दिनों में जांच रिपोर्ट आ जाएगी।किशोर कुणाल को जिस नंबर (04024624) से मैसेज आया जांच करने पर वह नंबर 4, भद्रघाट पटना के रहने वाले एक व्यक्ित का निकला। पूछे जाने पर उसने पुलिस को बताया कि उसका मोबाइल डेढ़ वर्ष पूर्व चोरी हो गया था। सूत्रों के अनुसार पुलिस ने जब इस नंबर का प्रिंट आउट निकाला तो यह आश्चर्यजनक तथ्य सामने आया कि इस नंबर का उपयोग रह-रहकर काफी दिनों बाद होता है पर उस अपराधी का अबतक पता नहीं चल सका है जिसने यह एसएमएस भेजा था। बताया जाता है कि किशोर कुणाल को एसएमएस भेजने के पूर्व इस नंबर का उपयोग बीते वर्ष 10 अक्टूबर को भी हुआ था। इधर इस संदर्भ में पूछे जाने पर आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि ‘जबसे महावीर मंदिर ट्रस्ट बना तबसे अपराधी उनके पीछे पड़े हैं। अब तक उन्हें चार बार धमकियां मिल चुकी हैं।’ उन्होंने बताया कि ‘तेइस वर्ष पूर्व भी उनकी हत्या के लिए उत्तर बिहार के कुख्यात अपराधी मिनी नरश को सुपारी दी गई थी।’ उन्होंने आशंका प्रकट की कि ‘कई महंत उनकी जान के दुश्मन हैं। ऐसे ही किसी आदमी ने उनकी हत्या के लिए किसी को सुपारी दी होगी।’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कुणाल की हत्या के लिए सुपारी