DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नक्सली मुठभेड़ में जवान शहीद

मुजफ्फरपुर जिले के साहेबगंज थाना क्षेत्र की परसौनी रइसी पंचायत के तरावां जहुरा गांव में शनिवार की शाम नक्सल उग्रवादियों से मुठभेड़ में बीएमपी-12 का जवान संजीव कुमार (आरक्षी संख्या-240) शहीद हो गया। संजीव की गरदन, दाहिने हाथ एवं सीने में गोली लगी है। तरावां गांव में नक्सलियों के प्रवेश की सूचना पर एसपी सुधांशु कुमार ने पश्चिमी डीएसपी पंका रावत के नेतृत्व में जिला के पुलिस बल को आपरशन के लिए रवाना किया।ड्ढr ड्ढr उधर रोहतास में कैमूर पहाड़ी के बड्डी ओपी क्षेत्र के सिंघनपुरा गांव से दक्षिण जंगल में तीन अज्ञात शव देखे गए। इन शवों को लेकर अनुमान है कि ये नक्सली संगठन के सदस्यों के शव हैं, जिसे आपसी रंजिश में मारकर फेंका गया है। दूसरी ओर कैमूर पहाड़ी पर नक्सलियों के भारी जमावड़ा की सूचना पर रोहतास व कैमूर की पुलिस ने संयुक्त रूप से शनिवार से पहाड़ी क्षेत्रों में कांबिंग ऑपरशन शुरू कर दिया है। साहेबगंज के तरावां और परसौनी दुबे गांवों की घेराबंदी के लिए मोतिहारी पुलिस से सम्पर्क कर चकिया से सीआरपीएफ के दो प्लाटून भी मंगवाये गए। एसपी ने बताया कि एक झोपड़ी से अंधाधुंध फायरिंग में जवान की मौत हुई। तिरहुत क्षेत्र के डीआईाी अरविंद पाण्डेय ने बताया कि नक्सलियों की गिरफ्तारी के लिए कॉम्बिंग आपरशन चलेगा। पुलिस के एक दस्ते ने शाम पांच बजे सोमगढ़ चौक पर गाड़ी लगाकर परसौनी की ओर प्रस्थान किया। दूसर दस्ते ने बसतपुर चैनपुर सड़क से गांव में प्रवेश किया। तीसर दस्ते ने बिदुरिया चौक की ओर से गांव में प्रवेश किया। शाम के सवा पांच बजे से आध घंटे तक सैकड़ों चक्र गोलियां चलने की आवाज आती रही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नक्सली मुठभेड़ में जवान शहीद