अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

असम में 14 और की हत्या

असम में बांग्लादेशी घुसपैठियों व स्थानीय बोडो आदिवासियों के बीच शुक्रवार को भड़की सांप्रदायिक हिंसा उदालगिरि के नए इलाकों के साथ-साथ दारांग जिले में भी फैल गई है। रविवार को ताजा हिंसा में 14 और लोगों को जान गंवानी पड़ी। सात लोग आपसी झड़प में जबकि अन्य सात पुलिस फायरिंग में मार गये। इससे मृतकों की संख्या बढ़कर 36 हो गई है। यहां रह रहे मुजफ्फरपुर (बिहार) के सकरा व बलिगांव थाना क्षेत्र के आधा दर्जन अल्पसंख्यक परिवारों के घरों को भी उपद्रवियों ने फूंक डाला।ड्ढr ड्ढr उदालगिरि की दिमाकुची मार्केट में उपद्रवियों ने सात बांग्लादेशियों को मौत के घाट उतार दिया जबकि एक व्यक्ित बुरी तरह घायल हो गया। घायल की पहचान बाबुल अली के रूप में हुई है। वहीं पुलिस ने फकीरापारा में हिंसा पर उतारू बांग्लादेशी घुसपैठियों पर फायरिंग की जिसमें सात लोग मार गये। ये लोग कफ्यरू का उल्लंघन कर पड़ोसी नौगांव व मॉरिगांव से दारांग जिले में घुसने की कोशिश कर रहे थे। पांच लोग मौके पर ही मार गये जबकि कई अन्य जख्मी हो गये। उदालगिरि के तियाझड़ में भी दो लोग फायरिंग में मारे गये। प्रशासन ने उदालगिरि और दारांग के धूला और दालगांव में बेमियादी कफ्यरू लगा दिया है। सेना ने रविवार को प्रभावित इलाकों में फ्लैग मार्च किया। हिंसा से करीब 70 हाार लोग विस्थापित हुए हैं। हाारों की संख्या में बोडो लोग प्रशासन द्वारा पांच जगह लगाए गए राहत शिविरों में शरण ली है। घटना के मद्देनजर उदलगिरि के उपायुक्त जॉर्ज बसुमत्री का तबादला कर दिया गया है जबकि एसपी अनूप कुमार सिंह को सस्पेंड कर दिया गया है। पुलिस ने बताया कि दोनों समुदायों के बीच विवाद जानवर चोरी से शुरू हुआ था। इसने रविवार को उदालगिरि के नए इलाकों को अपनी चपेट में ले लिया। साथ ही पड़ोसी दारांग के भी दो इलाकों में बोडो समुदाय और बांग्लादेशियों के बीच संघर्ष हुआ है।ड्ढr ड्ढr बांग्लादेशियों ने बोडो लोगों के कई घर फूंक दिए। पुलिस ने कहा कि जिले के खोयरबाड़ी इलाके में सुबह अज्ञात लोगों ने कई बांग्लादेशी नागरिकों पर हमला किया और 11 घरों को फूंक दिया। पड़ोसी दारांग जिले के टंगला में भी एक घर में आग लगा दी। दुबहा (मुजफ्फरपुर) से सं.सू. के अनुसार असम के रौता, झाड़गांव आदि जगहों पर रह रहे सकरा और बलिगांव थाना क्षेत्र के आधा दर्जन अल्पसंख्यक परिवारों के घर दंगाइयों ने फूंक डाले। पीड़ितों के परिानों ने बताया कि बघनगरी निवासी मो. कासिम अंसारी, रकीब अंसारी, लतीफ अंसारी, चैनपुरा निवासी हमीद मियां, करीम मियां आदि के घरों को आग के हवाले कर दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: असम में 14 और की हत्या