अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सांसदों को हर साल मिलेंगे 5 करोड़

सांसदों की झोली भारी होने वाली है। इस बात की प्रबल संभावना है कि अगले वित्तीय वर्ष से उन्हें अपने निर्वाचन क्षेत्र के विकास कार्यो के लिए हर साल पांच करोड़ की भारी-भरकम राशि मिलेगी।ड्ढr मौजूदा सांसद कोष दो करोड़ है और इसमें 2.5 फीसदी की बढ़ोतरी करने का कारण मंहगाई बताया जा रहा है। सांसद स्थानीय विकास निधि (एमपीएलएडी) की योजना की राष्ट्रीय स्तर पर निगरानी करने वाले सांख्यिकी मंत्रालय ने हर सांसद को पांच करोड़ रुपये आवंटित कराने का प्रस्ताव वित्त मंत्रालय के अनुमोदन के लिए भेज दिया है।ड्ढr ड्ढr मंत्रालय के एक शीर्ष सूत्र ने बताया कि संसद की स्थाई समिति की सिफारिशों के आधार पर बनाए गए इस प्रस्ताव को वित्त मंत्रालय के पास भेज दिया गया है। संभव है कि इस माह के अंत में इसपर निर्णय आ जाएगा। वामदलों को छोड़कर तमाम पार्टियों के सांसदों ने प्रधानमंत्री कार्यालय को व्यक्ितगत रूप से लिखकर इस कोष में बढ़ोतरी की गुजारिश की थी। इन लोगों का भी तर्क यही था कि लागत में कई गुना वृद्धि हो जाने के कारण विकास कार्यो के लिए यह रकम कम पड़ती है। कोष की राशि बढ़ाने की सिफारिश भेजने वाली संसद की स्थाई समिति के अध्यक्ष प्रसन्न आचार्य ने कहा, ‘सड़क अथवा सकूल बनाने की लागत इतनी बढ़ गई है कि हम लोग पांच-सात पहले तक जो विकास कार्य कराते थे उसका महा 30 से 35 फीसदी काम अब करवा पाते हैं।’ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सांसदों को हर साल मिलेंगे 5 करोड़