अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

असम में हिंसा फैली फायरिंग में 12 मरे

असम के उदालगिरी और दारंग जिलों में बोडो और प्रवासी मुस्लिमों के बीच शुक्रवार सुबह शुरू हुए दंगों की आग रविवार को कुछ और इलाकों में फैल गयी। हालांकि समूचे उदालगिरी जिले और दारंग के मुस्लिम बहुल धुला और दालगांव इलाकों में पिछले दो रो से कफ्यरू लागू है, लेकिन इसके बावजूद दंगे जारी हैं। रविवार को तीन जिलों में हिंसा की विभिन्न घटनाओं में 22 लोग मार गए। इनमें 12 लोग पुलिस फायरिंग में मार गए। प्रशासन ने दंगाग्रस्त इलाकों में देखते ही गोली मारने के आदेश दिए हुए हैं। हालांकि उदालगिरी और दारंग जिलों में सेना भी तैनात की गई है लेकिन वह मुख्य रूप से एनएच-52 पर ही गश्त लगा रही है। इन दोनों जिलों में कम से कम 70 हाार लोग हिंसा से प्रभावित हुए हैं। रविवार को हिंसा की चपेट में आये नये जिले बस्का के गोरश्वर नामक स्थान पर धारदार हथियार से एक महिला की हत्या कर दी गयी और एक बच्चे को घायल कर दिया गया। उदालगिरी जिले के दीमाकुची बाजार में दंगाइयों ने पांच लोगों को फांसी पर लटका कर मार डाला। दीमाकुची, तियाझार, धुला, रोवता और बटमारी में पुलिस फायरिंग में 11 लोगों की मौत हुई है और तीस से अधिक घायल हुए हैं। करीब 20 हजार ग्रामीणों को मुदोइबारी के शरणार्थी शिविर में रखा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: असम में हिंसा फैली फायरिंग में 12 मरे