अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीआरआर में आधा फीसदी की कटौती

वैश्विक और घरेलू वित्तीय क्षेत्र में तरलता की स्थिति का मूल्यांकन करने के बाद भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने नकद आरक्षित अनुपात (सीआरआर) में आधा फीसदी की कटौती करने का फैसला किया है। इस कटौती के बाद सीआरआर पहले के नौ प्रतिशत से घटकर साढ़े आठ प्रतिशत रह जाएगा। सीआरआर के तहत बैंकों को अपनी जमा का पैसा रिजर्व बैंक के पास रखना होता है। परिवर्तित दर 11 अक्टूबर से शुरु हो रहे पखवाड़े से लागू होगी। सीआरआर में कटौती से बैंकों के पास 20 हजार करोड़ रुपये अतिरिक्त उपलब्ध होंगे। इस तरह बैंकों के पास ऋण देने के लिए ज्यादा धन उपलब्ध होंगे। चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही की ऋण एवं मौद्रिक नीति की समीक्षा रिजर्व बैंक 24 अक्टूबर को घोषित करने वाला है, किंतु वैश्विक वित्त संकट को देखते हुए इससे पहले ही बैंक ने यह कदम उठाया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सीआरआर में आधा फीसदी की कटौती