अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कॉलेचाों में बैठे ही सुन सकेंगे विशेषज्ञों के लेक्चर

प्राविधिक विश्वविद्यालय ने अपने सभी इांीनियरिंग कॉलेाों को और हाईटेक करने की तैयारी शुरू कर दी है। आने वाले दिनों में इनमें पढ़ने वाले छात्र अपने कॉलेाों की कक्षाओं में ही बैठकर देश-विदेश के विशेषज्ञों के लेक्चर सुन सकेंगे। देशी-विदेशी कम्पनियों के प्रतिनिधियों को भी छात्रों के साक्षात्कार लेने के लिए इांीनियरिंग कॉलेाों मेंोाने कीोरुरत नहीं होगी। विवि के नोएडा परिसर में बैठकर वे छात्रों का साक्षात्कार ले सकेंगे। केन्द्र सरकार के सहयोग से विश्वविद्यालय प्रशासन ने वचरुअल क्लासेा योना पर काम शुरू कर दिया है। सोमवार को इस मामले में नोएडा में उच्च स्तरीय बैठक भी हुई।ोिसमें विशेषज्ञों के चयन पर चर्चा हुई।ड्ढr विवि प्रशासन पहले चरण में सूबे के सभी इांीनियरिंग कॉलेाों को वचुर्अल क्लासेा सेोोड़ेगा। दूसर चरण में एमबीए, एमसीए तथा बी.फार्मा के कॉलेाों को इससेोोड़ाोाएगा। योना के तहत विवि के नोएडा परिसर सहित प्रदेश में लगभग 15 नोडल केन्द्र बनाएोा रहे हैं। नोएडा इसका मुख्य सेन्टर होगा। यहाँ देश-विदेश के विशेषज्ञ व शिक्षकोब अपना लेक्चर देंगे तो शेष 15 केन्द्रों की मदद से इसका प्रसारण सूबे के सभी इांीनियरिंग कॉलेाों में कियाोाएगा। कॉलेाों के छात्र अपने यहाँ कक्षाओं में लगी स्क्रीन पर इसे देख व सुन सकेंगे। वे विशेषज्ञों से सवाल-ावाब भी कर सकेंगे। सबसे यादा फायदा उन कम्पनियों को होगाोिन्हें मेधावी छात्रों की तलाश के लिए एक से दूसर कॉलेा की खाक छाननी पड़ती है। अब वे नोएडा सेन्टर में बैठकरोिस इांीनियरिंग कॉलेा के छात्र का साक्षात्कार लेना चाहेंगे ले सकेंगे। उन्हें इसके लिए कॉलेाों मेंोाने कीोरुरत नहीं पड़ेगी। विश्वविद्यालय के कुलसचिव यू.एस.तोमर ने बताया कि सूबे के इांीनियरिंग कॉलेाों में इसका प्रसारण लगभग 15 केन्द्रों की मदद से कियाोाएगा। उत्तरांचल के इांीनियरिंग कॉलेाों के छात्र भी इसका फायदा ले सकेंगे। श्री तोमर ने बताया कि बड़ी कम्पनियों के प्रतिनिधि छात्रों के प्लेसमेंट के लिए छोटे शहरों मेंोाना पसंद नहीं करते।ोिससे यहाँ के इांीनियरिंग कॉलेाों के छात्रों का प्लेसमेंट औसत कम रहता है। वचरुअल क्लासेा योना के शुरू होने के बाद कम्पनियों के अधिकारी विवि के नोएडा परिसर में बैठकर छात्रों का साक्षात्कार ले सकेंगे। उन्होंने बताया कि यह योना अगले वर्ष शुरू होोाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कॉलेचाों में बैठे ही सुन सकेंगे विशेषज्ञों के लेक्चर