अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तिजारत ने तोड़ी सरहद की सियासत

में भारत और पाकिस्तान को आजादी मिलने के बाद शुक्रवार को पहली बार पाक अधिकृत कश्मीर से व्यापारियों का दल सीमा पर व्यापार के लिए बातचीत करने के लिए श्रीनगर आया है। दल के प्रमुख जुल्फिकार अब्बासी ने कहा कि हम शांति एवं खुशहाली का संदेश लेकर आए हैं। उन्होंने कहा कि दोनों ही क्षेत्रों में व्यापार के बढ़ने से शांति प्रक्रिया को बल मिलेगा और सभी मुद्दों को बातचीत से हल करने का बढा़वा मिलेगा। उन्होंने कहा कि हम लोग यहां व्यापार से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करने आए हैं। हमें मिलकर यह देखना है कि किस प्रकार से व्यापार को आगे बढा़या जा सकता है। पिछले ही महीने भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पाकिस्तानी राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने मिलकर कश्मीर क्षेत्र में नियंत्रण रेखा के पार व्यापार शुरू करने का फैसला लिया था। दोनों क्षेत्रों में आपसी व्यापार को बढ़ाना आजादी समर्थक लोगों की प्रमुख मांग है, इस मुद्दे को लेकर पिछले दिनों भारी विरोध प्रदर्शन घाटी में हुआ था। व्यापार के शुरू होने की तिथि 21 अक्टूबर निर्धारित की गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: तिजारत ने तोड़ी सरहद की सियासत