DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विवाद ने गुजरात में भी नहीं छोड़ा नैनो का साथ

टाटा की लखटकिया कार नैनो परियोजना पश्चिम बंगाल के बाद गुजरात में भी भूमि विवाद में फंसती नजर आ रही है। परियोजना के लिए अहमदाबाद के निकट साणंद में जो जमीन गुजरात सरकार ने टाटा को दी है उसका एक हिस्सा कानूनी पचड़े में फंसा हुआ है। सूत्रों के अनुसार परियोजना के लिए आणंद कृषि विश्वविद्यालय (एएयू) से ली गई 2200 एकड़ जमीन के 1453 एकड़ के टुकड़े को लेकर 2006 में देवीसिंह वाघेला नामक शख्स के परिवार ने एएयू के खिलाफ मुकदमा दाखिल किया हुआ है। वाघेला परिवार के सूत्रों के अनुसार यह जमीन 1में चोडी कैटल फार्म संस्था को वर्ष की लीज पर दी गई थी। वाघेला परिवार अब न सिर्फ जमीन पर अपना अधिकार वापस चाहता है बल्कि कानूनी खर्च पर मुआवजा भी मांग रहा है। जिलाधिकारी हरित शुक्ला ने हालांकि वाघेला परिवार के दावों को गलत बताया और कहा कि जो मुआवजा देना था दिया जा चुका है। इस बीच नैनो परियोजना के पश्चिम बंगाल के सिंगूर से निकलकर गुजरात के साणंद के चारोडी गांव में आने से गांव के आसपास जमीन की कीमतों में अचानक वृद्धि हो गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: विवाद ने गुजरात में भी नहीं छोड़ा नैनो का साथ