DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लोजपा पीड़ितों को ‘फैमिली पैक’ पहुंचाएगी

बाढ़ राहत कार्यो में जुटे लोजपा और दलित सेना के कार्यकर्ता रविवार को पीड़ितों तक ‘फैमिली पैक’ पहुंचाने की रणनीति बनायेंगे। प्रदेश अध्यक्ष पशुपति कुमार पारस ने बाढ़ग्रस्त इलाकों में तैनात सांसद, विधायकों, पार्टी पर्यवेक्षकों और राहत शिविरों के प्रभारियों को पटना तलब किया है। प्रदेश महासचिव केशव सिंह ने बताया कि फिलहाल हमारा ध्यान सहरसा, मधेपुरा, पूर्णिया, सुपौल, अररिया और कटिहार में लगे 128 कैम्पों के माध्यम से राहत अभियान चलाने पर ही सीमित है। पार्टी जनों से फीडबैक लेकर उक्त जिलों के दूरदराज के इलाकों में फंसे लोगों तक राहत सामग्री पहुंचाने की योजना बनेगी। स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) द्वारा तैयार कराए गये दो लाख से अधिक फैमिली पैक में छह किलो चावल, दो किलो चना, डेढ़ किलो दाल और एक किलो नमक के अलावा धोती, साड़ी, लुंगी, सलवार-समीज, फ्रॉक, टी-शर्ट, डेकची, थाली, कटोरा और गिलास रखा गया है।ड्ढr ड्ढr जनता दरबार नहीं होगाड्ढr पटना (हि.ब्यू.)। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सोमवार को दिल्ली में प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह की अध्यक्षता में होने वाली राष्ट्रीय एकता परिषद की बैठक में शामिल होंगे। इसी वजह से उस दिन 1, अणे मार्ग में ‘जनता के दरबार में मुख्यमंत्री’ कार्यक्रम नहीं होगा। वहां आखिरी बार जनता दरबार 11 अगस्त को लगा था। शबेबारात की वजह से 18 अगस्त को यह कार्यक्रम स्थगित रहा। उसी दिन कुसहा बांध पर कटाव से सहरसा, मधेपुरा, पूर्णिया, सुपौल, और अररिया कोसी की प्रलयंकारी बाढ़ की चपेट में आ गये। बाढ़ राहत गतिविधियों में मुख्यमंत्री की लगातार व्यस्तता को देखते हुए मुख्यमंत्री सचिवालय ने उसी समय से जनता दरबार का आयोजन स्थगित रखा है।ड्ढr ड्ढr महादलितों की मौत की वजह महामारी : कांग्रेसड्ढr पटना (हि. ब्यू.)। प्रदेश कांग्रेस पार्टी ने कहा है कि डुमरांव में हुई चार महादलितों की मौत महामारी के कारण हुई है। महामारी फैलने का कारण वहां वार्ड संख्या 23 में फैली गंदगी की प्रशासन द्वारा की जा रही अनदेखी है। पार्टी नेताओं की टीम ने घटना की जांच की। जांच टीम में शामिल सदस्यों ने मृतकों के परिानों को खाद्यान्न के अलावा पांच हाार रुपये और बच्चों के लिए वस्त्र भी दिये। यह जानकारी देते हुए पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष डा. समीर कुमार सिंह ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष अनिल कुमार शर्मा के निर्देश पर पूर्व मंत्री अशोक चौधरी के नेत्ृत्व में जांच टीम का गठन किया गया था। टीम ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि वहां अभी भी कई लोग बीमार हैं । टीम में अरविन्द लाल राक, प्रो. शशि प्रसाद शाही, प्रो. अनिरुद्ध प्रसाद पांडेय, सुनी सिंह पप्पू, प्रो. ध्रुव कुमार सिंह और संतोष कुमार श्रीवास्तव शामिल थे।ड्ढr ड्ढr पायलट चैनल निर्माण की गति तेज हुईड्ढr पटना (हि.ब्यू.)। कोसी के लगातार घटते जलस्तर के बीच नदी को पुरानी राह पर लौटाने के लिए पायलट चैनल निर्माण की गति तेज हो गयी है। चौबीस घंटे के भीतर कोसी के जलस्रव में 10 हजार क्यूसेक की कमी आयी है। इससे कटाव वाले इलाके में चैनल निर्माण में जुटे कर्मियों ने राहत की सांस ली है। शनिवार की दोपहर तक नदी में 37,000 क्यूसेक डिस्चार्ज हुआ जबकि शुक्रवार को 46,050 क्यूसेक डिस्चार्ज हुआ था। डिस्चार्ज में कमी के कारण मधेपुरा और सुपौल जिले को बाढ़ से राहत मिली है और इन जिलों के विभिन्न इलाकों में पानी का करंट काफी कम हो गया है। कोसी ब्रिच क्लोजर एडवाइजरी टीम (केबीसीएटी) की अनुशंसा पर 6 से 8 मीटर चौड़ा, एक मीटर गहरा और 8 किलोमीटर लंबा चैनल बनाया जा रहा है। कुसहा तटबंध के कटावस्थल पर भी सुरक्षात्मक कार्य जारी है। इस बीच जल संसाधन विभाग ने अपने सभी बांधों के सुरक्षित होने का दावा किया है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एक नजर