अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पासपोर्ट ठेका : छह पर खुफिया नजर

पुलिस कार्यालय की पासपोर्ट शाखा में पैर जमा चुके आधा दर्जन एजेंटों पर पुलिस और खुफिया अधिकारियों की नजर है। स्थानीय डाकघर में संदिग्ध लोगों के आवेदन जमा कर पासपोर्ट के लिए जालसाजी कराने वाले एजेंट पासपोर्ट शाखा के ही दो आरक्षियों को मोहरा बना चुके हैं। थाना प्रभारी एवं पासपोर्ट शाखा की प्रभारी पूनम कुमारी के फर्ाी हस्ताक्षर पर धंधा चलाने के धंधे में चंदवारा, हरनाही मोतीपुर, मौजा बंगरा एवं ब्रह्मपुरा के एजाज, जौहर अली, फिरो, शाहनवाज, एकबाल मियां एवं बालेन्दर महतो की तलाश है।ड्ढr ड्ढr पासपोर्ट आवेदकों और एजेंटों की हस्तलिपि और मोबाइल पिंट्र आउट की छानबीन से बड़ी साजिश पर से पर्दा उठने की उम्मीद है। जांच कर रहे मुख्यालय डीएसपी शंकर झा ने बताया कि जालसाजी करने वाले पुलिस कर्मी के हस्ताक्षर की पहचान हो गई है। पासपोर्ट आवेदनों के अग्रसारण में आरक्षी सामरथ सिंह की हस्तलिपि की पहचान की गई है। सामरथ सिंह अब जमादार के पद पर प्रोन्नत होकर मनियारी में कार्यरत है, परन्तु दो तबादलों के बावजूद आरक्षी पासपोर्ट शाखा में ही तैनात है। गत 18 एवं 20 अगस्त को पूनम अवकाश पर थीं। उनके फर्ाी हस्ताक्षर से तीन लोगों को पुलिस क्िलयरंस सर्टिफिकेट जारी किये गए। पासपोर्ट धारी को विदेश जाने से पहलेआपराधिक वारदात में शामिल नहीं रहने के सत्यापन हेतु पीसीसी प्राप्त करना पड़ता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पासपोर्ट ठेका : छह पर खुफिया नजर